Friday, June 25, 2021

एचएफसीएल कर्नाटक में दूसरा मॉडल पीएम-वाणी गांव स्थापित करेगी

नई दिल्ली25 जून, 2021 - अग्रणी भारतीय वाई-फाई ब्रांड और पहला टीआईपी ओपन वाईफाई अनुपालन समाधान प्रदाता में से एकएचएफसीएल ने टेलीकॉम इंफ्रा प्रोजेक्ट (टीआईपी) के सहयोग सेआज कर्नाटक के बैडबेट्टु गांव के लिए अपनी दूसरी पीएम-वाणी संचालित कनेक्टिविटी स्थापित करने की घोषणा की.  यह पीएम-वाणी नेटवर्क उडुपी जिले के ब्रह्मवर तालुक में स्थित गांव के 9,000 से अधिक निवासियों को हाई स्पीड वाई-फाई इंटरनेट प्रदान करेगा, जहां ये सुविधा बहुत ही जर्जर स्थिति में थी.

इस परियोजना में पूरे गांव की आबादी को ब्रॉडबैंड इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए एक मजबूत आउटडोर वाई-फाई नेटवर्क स्थापित करना शामिल है. बाहरी नेटवर्क एचएफसीएल आईओ के टीआईपी ओपनवाईफाई-आधारित एक्सेस प्वाइंटप्वाइंट-टू-प्वाइंट रेडियोसोलर पावर ओवर ईथरनेट (पीओई) उपकरणों और अन्य नेटवर्क उपकरणों का उपयोग करेगा. वाई-फाई नेटवर्क प्रमाणीकरण और नियामक निगरानी आई21 कोर सॉल्यूशंस द्वारा संचालित होगी जो पीएम-वाणी मॉडल के तहत पब्लिक डेटा ऑफिस एग्रीगेटर (पीडीओए) के रूप में भी काम करेगी. नेटवर्क के 31 जुलाई, 2021 तक लाइव होने की उम्मीद है.

तैनात किया जा रहा एकीकृत पैकेज स्वदेशी रूप से विकसित और उच्च प्रदर्शन के लिए भारत में बनाया गया है. ये पूरी तरह से सुरक्षित है और भारी वर्षा सहित कठोर मौसम की स्थिति का सामना करने और प्रदर्शन करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसकी सुविधा गांव को पूरे वर्ष प्राप्त होटी रहेगी.

नेटवर्क 6 किलोमीटर के दायरे में फैले गांव के सभी सामान्य क्षेत्रों में 500 एमबीपीएस तक की बैंडविड्थ के साथ वाई-फाई इंटरनेट की पेशकश करेगा. उच्च वर्षा क्षेत्र के तहत अपने दूरस्थ स्थान के कारणऔर आईटी और इंटरनेट के बुनियादी ढांचे की अनुपस्थिति के कारणबैडबेट्टु  के पास वर्तमान में कोई विश्वसनीय कनेक्टिविटी नहीं है. नतीजतनग्रामीण पहले डिजिटल रूप से जुड़ने के लिए आसपास के शहरों में कई किलोमीटर की यात्रा करते थे. हाल ही में कोविड-19 प्रतिबंधों ने इस यात्रा को और अधिक प्रभावित किया और उनके जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है.

इस तैनाती के साथ, 9,000 की आबादी वाला गांव ब्रॉडबैंड के दायरे में आ जाएगाजिससे स्वास्थ्यशिक्षाबैंकिंगखुदरामनोरंजनसरकारी डिजिटल सेवाओं जैसी डिजिटल सेवाओं तक पहुंच प्रदान करके उनके जीवन की गुणवत्ता में उल्लेखनीय सुधार होने की उम्मीद है.

एचएफसीएल के पहले पीएम-वाणी मॉडल गांव की तैनाती की बड़ी सफलता के बादजिसे तीन महीने पहले हरियाणा के बसलाम्बिन के छोटे से गांव में स्थापित किया गया थाएचएफसीएल इस मॉडल को दोहराने का इरादा रखता है. एक बार फिर टीआईपी द्वारा संचालित पीएम-वाणी अवधारणा की ताकत का प्रदर्शन करता है. एचएफसीएल का मानना ​​है कि यह न केवल इस दूरस्थ गांव के निवासियों को जोड़ेगा और उन्हें सभी डिजिटल सेवाओं तक पहुंच प्रदान करेगा बल्कि अन्य आईएसपी और समाधान प्रदाताओं को ग्रामीण कनेक्टिविटी की दो सबसे बड़ी चुनौतियों- वहनीयता और पहुंच के लिए सहयोग और नवाचार के लिए प्रेरित करेगा.

एचएफसीएल के प्रमोटर और प्रबंध निदेशकश्री महेंद्र नाहटा ने कहा, "एचएफसीएल में हम #InternetForAll को एक सर्वव्यापी वास्तविकता में बदलने के लिए प्रतिबद्ध हैं और कनेक्टिविटी पारिस्थितिकी तंत्र को मजबूत करने के लिए अग्रणी कोर समाधान प्रदाताओं के साथ सफलतापूर्वक सहयोग किया है. उत्तर भारत में हमारे पहले मॉडल पीएम-वाणी गांव की बड़ी सफलता के बादजहां हमने ब्रॉडबैंड एक्सेस प्रदान करने के लिए अपने मजबूतस्केलेबलइंटरऑपरेबल और टीआईपी ओपन वाई-फाई आधारित एक्सेस पॉइंट्स को तैनात कियाअब हम दक्षिण भारत के एक सुदूर गाँव में मॉडल को दुहरा रहे है. इस पहल के साथहमारा मानना ​​है कि गांव के छात्रों को अब कनेक्ट होने के लिए यात्रा करने की आवश्यकता नहीं होगी और इससे प्रत्येक ग्रामीण को जुड़े रहने और जीवन के सभी क्षेत्रों में बढ़ने की अनंत संभावनाएं तलाशने का मार्ग प्रशस्त होगा. यह आगे पीएम-वाणी योजना को देश के दूरस्थ हिस्सों में लागू करने में मदद करेगा.” 

टीआईपी के मुख्य अभियंता डेविड हटन ने कहा: "हमें खुशी है कि एचएफसीएल टीआईपी ओपन वाईफाई समुदाय के सक्रिय भागीदार के रूप में है. मल्टी-वेंडर वाई-फाई आर्किटेक्चर को वास्तविकता बनाने के लिए एचएफसीएल के उत्साह और प्रतिबद्धता को देखकर खुशी हो रही है. एचएफसीएल के "भारत में निर्मित" पीएम-डब्ल्यूएएनआई के साथ अलग-अलग ओपन वाईफाई समाधान, डिजिटल डिवाइड को संबोधित करता है. इसके लिए टीआईपी ओपन वाईफाई को नियोजित करने में शुरुआती सफलता मिली है.”

सत्यम दरमोरासंस्थापक और सीईओआई2ने कहा, हम एक और पीएम-वाणी अवसर के लिए एचएफसीएल के साथ जुड़कर प्रसन्न हैं. एक अन्य एचएफसीएल की "कनेक्ट द अनकनेक्टेड" पहल का हिस्सा बनने पर गर्व महसूस होता हैजिसमें उनके टीआईपी ओपनवाईफाई अनुपालन समाधान का उपयोग किया जाता है. यह असंबद्ध को जोड़ने के लिए भारत में विश्व स्तरीय नेटवर्क उपकरण बनाने की एचएफसीएल की प्रतिबद्धता पर जोर देता है. यह देश के सभी नागरिकों को ब्रॉडबैंड इंटरनेट एक्सेस प्रदान करने के प्रमुख चालक के रूप में पीएम-वाणी योजना में उनके विश्वास को भी प्रदर्शित करता है.”

No comments:

Post a Comment

श्री कृष्ण बलराम मंदिर में नरसिंह चतुर्दशी महोत्सव मनाया गया

जयपुर  |  हरे कृष्ण मूवमेंट जयपुर के जगतपुरा स्थित श्रीकृष्ण बलराम मंदिर में नरसिंह चतुर्दशी महोत्सव मनाया गया। इस मौके पर मंदिर अध्यक्ष अमि...