Thursday, June 24, 2021

देश में बढ़ते मिलेनियल्स निवेशकों को अपने साथ जोड़ने के लिए आईआईएफएल सिक्योरिटीज और स्टॉकल के बीच साझेदारी

24 जून2021- देश के सबसे बड़े स्वतंत्र रिटेलइंस्टीट्यूशनल ब्रोकिंग हाउस और एक प्रमुख निवेश सलाहकार फर्म आईआईएफएल सिक्योरिटीज ने भारत के सबसे बड़े वैश्विक निवेश मंच स्टॉकल के साथ भागीदारी की है। यह साझेदारी आईआईएफएल सिक्योरिटीज के ग्राहकों को 3500 से अधिक यूएस-सूचीबद्ध कंपनियों तक पहुंच बनाने में मददगार साबित होगी। साथ हीनिवेशक फ्रेक्शनल स्टाॅक्स में निवेश करने में भी सक्षम होंगे और विशेषज्ञों द्वारा तैयार किए गए स्टैक्स और ईटीएफ में जोखिम और उद्योग की प्राथमिकताओं के अनुरूप निवेश कर पाएंगे।

अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के बारे में अच्छी जागरूकता और बिना किसी कागजी कार्रवाई के ऑनलाइन व्यापार में आसानी के कारण स्टॉकल के ग्राहक आधार का 50 फीसदी से अधिक हिस्सा मिलेनियल्स पीढ़ी से आता है। दोनों कंपनियों के बीच गठजोड़ से उन मिलेनियल्स की संख्या बढ़ाने में मदद मिलेगीजो अमेरिकी शेयर बाजार में निवेश करने के लिए उत्सुक हैं। यह रणनीतिक बी2बी साझेदारी दोनों कंपनियों को समझदार निवेशकों तक अपनी पहुंच और उत्पाद की पेशकश बढ़ाने के लिए एक बढ़त प्रदान करेगी।

इस साझेदारी के बारे में जानकारी देते हुए स्टॉकल के को-सीईओ और को-फाउंडर विनय भरतवाज ने कहा, ‘‘आईआईएफएल के प्रति निवेशकों ने जो भरोसा व्यक्त किया हैवह वैश्विक निवेश को अगले स्तर तक ले जाने में मदद करेगा। यह साझेदारी कंपनी को अपने मौजूदा और नए ग्राहकों को वैश्विक निवेश विकल्प प्रदान करने में मदद करेगीजिससे दीर्घकालिक संबंध सुनिश्चित होंगे। इसके अलावायह साझेदारी हजारों युवा भारतीय निवेशकों को वैश्विक बाजारों द्वारा पेश किए गए अवसरों का लाभ उठाने में सक्षम बनाएगी। आईआईएफएल के साथहम देश भर में सभी निवेशकों के लिए एक सहज और सरल प्रक्रिया स्थापित करने में मदद करेंगे।’’

इस साझेदारी की चर्चा करते हुए आईआईएफएल सिक्योरिटीज के सीईओ संदीप भारद्वाज ने कहा, ‘‘नए भारतीय खुदरा निवेशकजिनमें ज्यादातर मिलेनियल्स और जेन-जेड के लोग शामिल हैंवे तेजी से वैश्विक परिसंपत्तियों में निवेश करते हुए अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाने की सोच रहे हैं। जब से कोविड -19 महामारी ने घरेलू बाजार में अनिश्चितताओं को जन्म दिया हैतब से मिलेनियल्स पीढ़ी के लोगों की दिलचस्पी अमेरिकी शेयरों में बढ़ती जा रही है और वे किन्हीं विशेष शेयरों में आंशिक रूप से निवेश करने के लिए तैयार नजर आ रहे हैं। इसी सिलसिले में स्टॉकल के साथ हमारी साझेदारी हमारे ग्राहकों के लिए वैश्विक बाजारों में सहज और सरल रूप से निवेश करने के नए रास्ते खोल देगी।’’

आईआईएफएल सिक्योरिटीज के चीफ डिजिटल आॅफिसर नंदकिशोर पुरोहित ने कहा, ‘‘हमारे ग्राहकों को इंटीग्रेटेड डिजिटल निवेश समाधान प्रदान करने की निरंतर कोशिशों के तहत ग्लोबल स्तर पर निवेश की हमारी यह पेशकश एक मजबूत ओपन एपीआई प्लेटफॉर्म द्वारा संचालित है। यह कुछ ही क्लिक में हमारे ग्राहकों को यूएस स्टॉक और ईटीएफ में निवेश करने के लिए एक सहज ऑनबोर्डिंग अनुभव प्रदान करता है और यह सुविधा उद्योग में पहली बार प्रदान की गई है। इससे हमें अपने समस्त ग्राहकों को सभी परिसंपत्ति वर्गों में भविष्य में निवेश पोर्टफोलियो का एक परिदृश्य प्रदान करने में भी मदद मिलेगी। यह सिर्फ एक कदम है और हम अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से अपने ग्राहकों को निवेश का अनुभव प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’’

विशेष रूप से महामारी के बाद के वर्षों में भारतीय क्राॅस बाॅर्डर लेनदेन कई गुना बढ़ रहा है। इनमें से एक बड़ा हिस्सा जेन एक्स (45-55 वर्ष) का हैइसी आधार पर अनुमान है कि वर्ष 2025 तक भारत में निवेशकों की एक बड़ी संख्या मिलेनियल्स और जेन जेड के निवेशकों की होगी।

No comments:

Post a Comment

टाटा पावर ने भारत में ईवी-चार्जिंग के बुनियादी ढांचे को ऊर्जा प्रदान करने के लिए ह्युंदाई मोटर इंडिया के साथ की साझेदारी

राष्ट्रीय 17 मई 2022 : देश की एक सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी और ईवी चार्जिंग की बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने वाली अग्रणी कंपनी टाटा पावर ने...