Thursday, June 17, 2021

होण्डा ने भारत में लाॅन्च की 2021 गोल्ड विंग टूर

नई दिल्ली, 17 जून, 2021ः लक्ज़री टूरिंग के गोल्ड स्टैण्डर्ड को नए आयाम देते हुए होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया प्रा. लिमिटेड ने आज भारत में 2021 गोल्ड विंग टूर का लाॅन्च किया। यह नया माॅडल जापान से सीबीयू रूट के ज़रिए भारत में अपनी जगह बनाएगा। (’कम्प्लीटली बिल्ट-अप)

2021 गोल्ड विंग टूर, दो वेरिएन्ट्स के विकल्पों में उपलब्ध होगी-ड्यूल क्लच ट्रांसमिशन (डीसीटी) विद एयरबैग और मैनुअल ट्रांसमिशन।

इस लाॅन्च एवं प्रीमियम मोटरसाइकल बिज़नेस के विस्तार के बारे में बात करते हुए श्री अत्सुशी ओगाता, मैनेजिंग डायरेक्टर, प्रेज़ीडेन्ट एवं सीईओ, होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया प्रा. लिमिटेड ने कहा, ‘‘1975 में शुरूआत के बाद से हमेशा होण्डा गोल्ड विंग टू-व्हील्ड टूरिंग का शानदार अनुभव प्रदान करती रही है। यह एक ऐसी मोटरसाइकल है, जिसने पिछले दशक के दौरान बेहतरीन यात्रा तय की है, तथा लक्ज़री, गुणवत्ता एंव आराम की दृष्टि से बेजोड़ प्रतिष्ठा पाई है। हमें गर्व है कि हम अपने बहु-प्रतीक्षित माॅडल -2021 गोल्ड विंग टूर को भारत में अपने प्रीमियम मोटरसाइकल प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में शामिल करने जा रहे हैं।’’ 

इस अवसर पर श्री यदविंदर सिंह गुलेरिया, डायरेक्टर- सेल्स एण्ड मार्केटिंग, होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया प्रा. लिमिटेड ने कहा, ‘‘शहरों एवं खुले राजमार्गों की टू-व्हील्स यात्रा में लक्ज़री के बेंचमार्क स्थापित करने वाली 2021 गोल्ड विंग टूर बेजोड़ आराम देती है। होण्डा की ओर से यह फ्लैगशिप माॅडल बेहतरीन डिज़ाइन, आधुनिक उपकरणों और शानदार फीचर्स का सर्वश्रेष्ठ संयोजन है, जो भारत में सही मायनों में ‘आर्ट आॅफ लक्ज़री टूरिंग’ का नए आयाम देगी।’’ 

उपकरण और स्टाइलिंग

चेसीज़ और इंजन की डायनामिक क्षमता तथा पारम्परिक गोल्ड विंग प्रीमियम के फिट, फिनिश और मटीरियल के साथ इसकी स्टाइलिंग ज़बरदस्त है। इसका ‘फेस’ आगे की ओर तिरछा झुका है जो इसे बोल्ड लुक देता है; काॅम्पैक्ट फेयरिंग प्रोर्पोशन के साथ यह एनर्जेटिक फ्रंटल सिग्नेचर पेश करती है। 

बाॅडी की की लाईन आगे से पीछे की ओर स्टैªच करती हुई, उपरी एवं निचले बाॅडीवर्क फंक्शन्स को अलग से हाईलाईट करती है। फेयरिंग इसका सेंट्रल एलीमेन्ट है, जो अपने शार्प और सोलिड फ्लैट सरफेस तथा एरोडायनामिक डीटेलिंग के साथ आता है। इन सब फीचर्स के साथ यह शानदार परफोर्मेन्स देती है। 

मोटरसाइकल के डिस्प्ले की बात करें तो -डबल विशबोन फ्रंट सस्पेंशन, फ्लैट-सिलिंडर इंजन एक्ज़हाॅस्ट-इसकी फंक्शनल खूबसूूरती में चार-चांद लगा देते हैं। ये डिज़ाइन एलीमेन्ट्स एक साथ मिलकर इसे अत्याधुनिक स्टाइल देते हैं और इंजीनियरिंग एंव इलेक्ट्रोनिक्स के बेजोड़ संयोजन के रूप में पेश करते हैं। 

गोल्ड विंग टूर के एजेंडा में आराम, हीट मैनेजमेन्ट और एयर मैनेजमेन्ट पर विशेष ध्यान दिया गया है। राइडर और पिलियन के आस-पास फेयरिंग चैनल्स का एयरफ्लो, आरामदायक ठंडी हवा जैसा अहसास देता है।

बाएं हैण्डलबार से संचालित होने वाली एक्सटेंडेड इलेक्ट्रिक स्क्रीन बेहतरीन विंड प्रोटेक्शन देती है, साथ ही आवश्यकतानुसार स्पेस और आज़ादी का अनूठा अनुभव प्रदान करती है। स्क्रीन एंगल और हाईट एडजस्टमेन्ट- स्टैपलैस है। 

सीटिंग की बात करें तो राइडर और पिलियन सीट अलग हैं। राइडर की सीट की शेप आरामदाय और सपोर्टिव है, जिससे राइडर का मुवमेन्ट और ग्राउण्ड रीच आसान हो जाती है। लक्ज़री नए स्यूड/सिंथेटिक लैदर सीट कवर का फायदा राइडर और पिलियन दोनों को होता है; पिलियन को बैकरेस्ट के लिए 16 डिग्री से 23 डिग्री का एंगल मिलता है।  

पूरी लाइटिंग एलईडी है और गोल्ड विंग टूर ड्यूल एलईडी फाॅग लाईट्स के साथ आती है। हैडलाईट के निचले हिस्से में दोनों ओर पाॅलिश्ड आॅप्टिकल लैंसेज़ का उपयोग किया गया है, जो ज्वैल-आई बीम लाईट सिग्नेचर बनाते हैं। हाई बीम (उपरी हिस्से में) की मदद से स्टेरेस्कोपिक इम्प्रेशन बनाता है। मिरर में फ्रन्ट आॅटो-कैंसल इंडीकेटर्स हैं। 

राइडिंग के दौरान क्रूज़ कंट्रोल स्विच से स्पीड को सैट किया जा सकता है, जो स्पीडोमीटर के नीचे बाईं ओर दिया गया है। थ्राॅटल बाय वायर के माध्यम से सिस्टम विशेष स्पीड तक आसानी से ट्रांज़िशन कर जाता है, और खासतौर पर चढ़ाई के दौरान अल्ट्रा-स्मूद संचालन प्रदान करता है। मैनुअल ट्रांसमिशन के मामले में, क्लच या ब्रेक को स्क्वीज़ करने या थ्राॅटल को ट्विस्ट करने से क्रूज़ कंट्रोल कैंसिल हो जाता है। 

डीसीटी वेरिएन्ट (एटी मोड) के लिए आॅपरेशन में क्रूज़ कंट्रोल सिस्टम के साथ डीएक्सेलरेशन पूरा करने के बाद- और पिछली स्पीड रीज़्यूम करने के बाद- गोल्ड विंग पहले से सैट किए गए शिफ्टिंग शेड्यूल पर आ जाती है। 

लक्ज़री इन्स्ट्रुमेंटेशन अनूठा काॅकपिट बनाता है। डायल को डार्क टोन के साथ लो-कन्ट्रास्ट कलर्स दिए गए हैं, कोन के आकार के ढलान से युक्त परिधीय क्षेत्र इसे गहराई का अहसास देता है।

7 इंच-फुल कलर टीएफटी लिक्विड क्रिस्टल डिस्प्ले आॅडियो और नेविगेशन सिस्टम के लिए पूरी जानकारी देता है तथा राइडिंग मोड्स एवं सस्पेंशन एडजस्टमेन्ट का प्रबन्धन करता है। हर ज़रूरी जानकारी बेहद फंक्शनल तरीके से विभिन्न सेगमेन्ट्स में डिस्प्ले होती है, तो राइडर आंखों के कम से कम मुवमेन्ट के साथ हर ज़रूरी डेटा पा सकता है। 

ब्राईटनैस आॅटोमेटिक तरीके से एडजस्ट हो जाती है और राइडर 8 ब्राईटनैस लैवल्स में अपनी सुविधानुसार चुनाव कर सकता है। टायर प्रेशर की बात करें तो यह इन्स्ट्रुमेन्ट्स के नीचे बाई ओर अंकों के रूप में में डिस्प्ले होता है। 

स्मार्ट की मोटरसाइकल के पूरे सिस्टम को एक्टिवेट करती है और एमरजेन्सी कीको शामिल करती है। इग्निशन और हैण्डलबार लाॅक को आवश्यकतानुसर आॅन/ आॅफ किया जा सकता है। 

2021 के लिए रियल टाॅप बाॅक्स की अतिरिक्त 11 लीटर क्षमता दी गई है, इस तरह कुल क्षमता 121 लीटर हो जाती है। स्मार्ट की के साथ, पुश बटन सभी बाॅक्सेज़ को खोल सकता है जिससे सामान लेजाना (लगेज आॅपरेशन) आसान हो जाता है। स्मार्ट की पर मौजूद अनलाॅक बटन के साथ यात्री को इन्स्टेन्ट पैनियर एक्सेस मिलता है। 

गोल्ड विंग टूर एप्पल कार प्लेन्न् और एंड्रोइड आॅटोन्न्के लिए कम्पेटिबल है, जिससे राइडर अपने स्मार्टफोन में मौजूद पर्सनलाइज़्ड जानकारी और कंटेंट जैसे टेलीफोन नंबर, म्युज़िक प्लेलिस्ट आदि का उपयोग कर सकता है। ब्लूटुथ कनेक्टिविटी भी उपलब्ध है, प्लग इन करने के लिए दो यूएसबी टाईप-सी पोर्ट्स दिए गए हैं। 

अपग्रेडेड लाईटवेट स्पीकर्स बेहतरीन मौजूदगी के साथ शानदार साउण्ड क्वालिटी देते हैं। पैसेंजर आॅडियो कंट्रोल स्विच राइडिंग के अनुभव को और भी बेहतरीन बनाता है। 

नेविगेशन सिस्टम को इन्स्ट्रुमेन्ट्स के बीच के हिस्से में डिस्प्ले किया गया है और इसमें एक गायरोकम्पास शामिल है- जो राइडर को निरंतर मार्गदर्शन देता रहता है, फिर चाहे वह सुरंग के अंदर ही क्यों न हो। ईंधन टैक की क्षमता 21ण्1 लीटर है। 

चेसीज़ और हैण्डलिंग

गोल्ड विंग टूर का डाई-कास्ट, एलुमिनियम ट्विन-बीम फ्रेम इस तरह से डिज़ाइन किया गया है कि इंजन को टाईट स्पेस में पैक कर देता है; हर हिस्से में इसकी मोटाई को भी इस तरह से अनुकूलित किया जाता है, ताकि राइड स्टेबल और स्मूद हो जाए, फिर चाहे राइडर को पैदल चलने जैसी स्पीड पर राईड करना हो या शहर की भीड़-भाड़ भरी सड़कों पर या खुली सड़कों पर। 

डबल विशबोन फ्रन्ट सस्पेंशन का एक और फायदा यह है कि इससे स्टैण्डर्ड टेलीस्कोपिक फोर्क के कारण उत्पन्न होने वाला स्लाइडिंग फ्रिक्शन कम हो जाता है (बम्प डिफलेक्शन और स्टीयरिंग इनपुट से), जब स्टैंचियाॅन्स फोर्क लैग में उपर-नीचे यात्रा करते हैं। सभी शाफ्ट बुश एरियाज़ में बियरिंग्स का उपयोग किया गया है ताकि स्टीयरिंग और सस्पेंशन स्ट्रोक के कारण होने वाला फ्रिक्शन कम हो जाए। 

ड्यूल फोर्क होल्डर्स के ज़रिए होने वाला स्टीयरिंगइनपुट-भी सिंगल शाॅक एब्ज़ाॅर्बर के कारण सस्पेंशन से अलग हो जाता है, और मोटरसाइकल हर हाल में फुर्तीली और चुस्त बनी रहती है, इसकी स्टियरिंग भी आसान हो जाती है। इसके अलावा पेटेंटेड स्टीयरिंग क्राॅस टाई-राॅड्स हैण्डलबार को फ्रन्ट एक्सल और हैण्डलबार पाइवट से कनेक्ट करते हैं, जिससे राइडर को पूरी तरह से प्राकृतिक अहसास होता है।

ड्यूल काॅम्बिनेशन ब्रेक सिस्टम (डी-सीबीएस) ब्रेकिंग फोर्स को अगले और पिछले पहियों में ठीक से बांट देता है। सिंगल, लाईट सर्कुलेशन टाईप एबीएस माॅड्युलेटर के साथ ब्रेक ईसीयू के उपयोग से- ब्रेकिंग सिस्टम का वज़न कम हो जाता है। जिससे राइडर अपनी पसंद के राइडिंग मोड में आॅपरेट कर सकता है, और राइडिंग की परिस्थितियों के अनुसार राइडिंग खुद ही एडजस्ट हो जाती है। 

गोल्ड विंग टूर प्रो-आर्म स्विंग आर्म के साथ आती है, जो फ्रेम के बाई ओर अटैच किया गया है। दायां हिस्सा मेंटीनेन्स एक्सेस का काम करता है। जहां एक ओर यह डिज़ाइन की आज़ादी देता है, वहीं दूसरी ओर मशीन के मैनेजमेन्ट को भी आसान बनाता है; साथ ही यह स्थिरता भी देता है। स्फेरिकल जाॅइन्ट्स के उपयोग के दौरान प्रो-लिंक प्रोग्रेसिव सस्पेंशन एक्शन प्रदान करता है और राइड को आरामदायक बनाता है और टोर्ज़न को कैंसिल कर देता है। 

डैम्पिंग लैवलराइडिंग मोड के अनुसार इलेक्ट्रिकली समायोजित हो जाता है। फ्रन्ट और रियर शाॅक एब्र्ज़ाबर में मौजूद स्टीपर मोटर्स, आॅयल फ्लो को नियन्त्रित करने के लिए नीडल को मुव करता है, और राइडिंग की परिस्थितियों के अनुसार डैम्पिंग फोर्स को सुनिश्चित करता है। रियर स्प्रिंग प्रीलोड को भी इलेक्ट्रिक तरीके से समायोजित कियाा जा सकता है। 4 अलग राइडिंग मोड्स के अलावा, प्रीलोड रीलेटिव के लिए 4 सैटिंग्स हैं- लोड फ्राॅम साॅफ्ट टू हार्ड- सिंगल राइडर; राइडर विद लगेज; राइडर विद पिलियन और राइडर विद पिलियन फुली लोडेड विद लगेज। 

इंजन और परफोर्मेन्स 

1833 सीसी लिक्विड-कूल्ड 4-स्ट्रोक 24 वाॅल्व एसओएचसी फ्लैट-6 इंजन 93ाॅ / 5ए500तचउका पीक पावर और 170छउ / 4ए500तचउका पीक टोर्क देता है। 73 मिलीमीटर का बोर साइज़ 73 मिलीमीटर के स्ट्रोक से मेल खाता है; बाएं और दाएं सिलिंडर्स को 4 मिलीमीटर आॅफसेट किया गया है और सिलिंडर की स्लीव्स एलुमिनियम की बनी हैं। थ्राॅटल बाय वायर (टीबीडब्ल्यू) इंजन मैनेजमेन्ट, कैरेक्टर और पावर डिलीवरी में ज़रूरी बदलाव लाने के लिए 4 राइडर मोड्स-टूर, स्पोर्ट, इकोन और रेन-के साथ आता है, जो सस्पेंशन डैम्पिंग और ड्यूल कम्बाइन्ड ब्रेक सिस्टम (डी-सीबीएस) से जुड़े होते हैं। 

होण्डा सलेक्टेबल टोर्क कंट्रोल (एचएसटीसी) रियल व्हील टैªक्शन को माॅनिटर करता और राइडिंग की सभी परिस्थितियों में इसका रखरखाव करता है, ऐसे में राइडर को पूरा आत्मविश्वास प्रदान करता है। इसके इनपुट लैवल को भी राइडिंग मोड सलेक्शन के अनुसार टीबीडब्ल्यू के माध्यम से एडजस्ट किया जा सकता है। इंजन का डीप बास सिग्नेचर, बिना अतिरिक्त शोर किए पावरफुल थ्रोब देता है। 

इंटीग्रेटेड स्टार्टर जनरेटर (आईएसजी) जनरेटर और स्टार्टर मोटर को एक ही कम्पोनेन्ट में समेकित करता है, जिससे रिवर्स पावर आने पर जनरेटर पूरी दक्षता के साथ स्टार्टर मोटर बन जाता है। आईएसजी ड्राइविंग गियर्स के लिए हेलिकल गियर्स होते हैं, जो मशीन के शोर को कम करते हैं। 

आइडलिंग स्टाॅप (डीसीटी विकल्प पर) की मुख्य विशेषता यह है कि आईएसजी के कारण इंजन बिना शोर किए स्टार्ट हो जाता है, डीसीटी और टीबीडब्ल्यू कंट्रोल के कारण मोटरसाइकल स्मूद तरीके से स्टार्ट होती है। आइडलिंग स्टाॅप आॅन रहने पर जब मशीन रैड लाईड पर रूकती है तो 3 सैकण्ड के अंदर इंजन खुद ही बंद हो जाता है। इसे दोबारा स्टार्ट करने के लिए राइडर को सिर्फ थ्राॅटल को टर्नकरना होता है, जिससे इंजन तुरंत स्टार्ट हो जाता है। 

गोल्ड विंग टूर, के मैनुअल और डीसीटी वेरिएन्ट्स दोनों में हिल स्टार्ट असिस्ट होता है। जिससे हर तरह के स्लोप पर मशीन को स्टार्ट करना आसान हो जाता है। ब्रेक लिवर रिलीज़ करने पर- हाइड्राॅलिक प्रेशर अस्थायी रूप से ब्रेकिंग फोर्स पैदा करता है (तकरीबन 3 सैकण्ड के लिए), इससे थ्राॅटल के साथ उंचाई पर स्टार्ट करना आसान हो जाता है। 

ट्रांसमिशन सिस्टम 

6-स्पीड मैनुअल गियरबाॅक्स में क्लच और ट्रांसमिशन के बीच ‘कैम डैम्पर’ फिट किया गया होता है, जो हर इनर्शियल मास को अलग कर शोर को कम करता है और गुणवत्ता एवं टिकाउपन को बेहतर बनाता है। कैम असिस्ट एण्ड स्लिपर क्लच (रिलीज़ मैकेनिज़्म में कम डिस्क और कम हाइड्राॅलिक फ्रिक्शन के साथ) को पारम्परिक हाइड्राॅलिक असिस्ट क्लच के स्थान पर लगाया गया है। इससे क्लच लोड 20 फीसदी तक कम हो जाता है और डाउनशिफ्ट आसान हो जाता है; सिलपर मैकनिज़्म भी डाउनशिफ्ट की गुणवत्ता को बेहतर बनाता है। इसमें इलेक्ट्रिक रिवर्स फीचर भी शामिल हैं।

तीसरी पीढ़ी का ड्यूल क्लच ट्रांसमिशन (डीसीटी) फीचर, 7-स्पीड, क्लच फील, शिफ्ट स्पीड और अप/डाउनशिफ्ट की तचउ रेंज के साथ आता है, जिसे हर राइडिंग मोड को ध्यान में रखते हुए डिज़ाइन किया गया है। इसे कम स्पीड की गतिशीलता को अनुकूलित करता है, निकटतम अनुपात से शिफ्ट शाॅक कम हो जाता है। स्पीड की अधिक रंेज में इन्हें इस तरह से सेट किया जाता है कि इंजन तचउ कम हो जाता है। अप-डाउन शिफ्टिंग की सर्वोच्च गुणवत्ता के चलते दोनों स्पीड रंेज आरामदायक अहसास देती हैं। 

कलर, कीमत और उपलब्धता

आज से होण्डा ने अपने एक्सक्लुज़िव प्रीमियम डीलरशिप्स-बिगविंग टाॅपलाईन, गुरूग्राम (हरियाणा), मुंबई (महाराष्ट), बैंगलुरू (कर्नाटक), इंदौर (मध्यप्रदेश), कोची (केरल) और हैदराबाद (तेलंगाना) में 2021 गोल्ड विंग टूर की बुकिंग शुरू कर दी है। आॅनलाईन बुकिंग के लिए विज़िट करें https://www.hondabigwing.in/BookNow.   जुलाई माह  से उपभोक्ताओं के लिए डिलीवरी शुरू हो जाएगी। 






No comments:

Post a Comment

टाटा पावर ने भारत में ईवी-चार्जिंग के बुनियादी ढांचे को ऊर्जा प्रदान करने के लिए ह्युंदाई मोटर इंडिया के साथ की साझेदारी

राष्ट्रीय 17 मई 2022 : देश की एक सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी और ईवी चार्जिंग की बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने वाली अग्रणी कंपनी टाटा पावर ने...