Saturday, May 8, 2021

महामारी में बेबस और पस्त जनता का धणी-धोरी कौन ?

 


-- फुलेरा विधायक की सहायता राशि ऊंट के मुंह में जीरा
-- शाहपुरा विधायक ने अपने क्षेत्र के लिए ही दे दिए दो करोड़
-- रेनवाल यूथ क्लब ने भी सहयोग को बढ़ाया हाथ

विशेष संवाददाता

किशनगढ़ रेनवाल। रेनवाल क्षेत्र में कोरोना महामारी से जनता पस्त और त्रस्त होकर बेबस है। वहीं स्थानीय विधायक निर्मल कुमावत ने मात्र 20 लाख रुपए की विधायक कोष से अनुशंसा जिला परिषद को भेजी है, जो कि उनके मुंह में जीरा है। वहीं भाजपा के चौमूं विधायक रामलाल शर्मा ने एक करोड़ और कांग्रेस से शाहपुरा विधायक आलोक बेनीवाल ने तो 2 करोड रुपए की अनुशंसा की है।
स्थानीय पार्षद महेंद्र कुमार सुल्तानिया का कहना है कि फुलेरा विधानसभा क्षेत्र बड़ा है, और आबादी भी लाखों में है। और यहां विधायक की ओर से मात्र 20 लाख रुपए की अनुशंसा करना बेहद सोचनीय विषय है। लगातार तीन बार विधायक रहने के बाद भी अब तक उन्होंने जनता के लिए कुछ नहीं किया है। इस आपदा की घड़ी में भी उनकी ओर से कोई विशेष घोषणा या मदद नहीं की गई है, यहां आकर जनता को संभालना तो दूर की बात है। रेनवाल क्षेत्र के युवा और श्रीकृष्ण मित्र मंडल के प्रिंस तिवाड़ी का कहना है कि इस महामारी के समय में स्थानीय सांसद, स्थानीय विधायक और अन्य जनप्रतिनिधियों को तो सहायता के लिए आगे आकर ऑक्सीजन मशीन, सिलेंडर सहित अन्य कई आवश्यकताओं की चीजों के लिए सहायता करनी चाहिए। इसके अलावा सभी सामाजिक संस्थाओं संगठनों और भामाशाह को भी सहायता के लिए आगे आना चाहिए। रेनवाल में रेनवाल यूथ क्लब, श्याम मित्र मंडल, श्रीगणेश मेला समिति और रेनवाल व्यापार महासंघ आदि संस्थाएं हैं, इन्हें भी अपनी शक्ति और सामर्थ्य के मुताबिक सहायता के लिए आगे आना चाहिए। इसके बाद रेनवाल यूथ क्लब जो हमेशा सामाजिक सरोकारों में आगे रहता है, की ओर से सदस्य संजय तोतला, पूर्व पार्षद राजकुमार कुमावत, भाजपा युवा मोर्चा के राजेंद्र प्रसाद रिंगस्या  ने दो खाली ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर अस्पताल प्रशासन को सौंपा है। तो वहीं समाजसेवी भींवाराम डोडवाड़िया ने भी स्वयं के स्तर पर दो ऑक्सीजन के खाली सिलेंडर अस्पताल प्रभारी को सुपुर्द किए हैं। इस दौरान यहां सीएचसी प्रभारी डॉ राजेंद्र प्रसाद सेपट, महिला चिकित्सक डॉ किरण ओला, हरफूल जाट आदि स्टाफ भी मौजूद रहा।



Attachments

No comments:

Post a Comment

मंगलयान और चंद्रयान ने दिखाए बच्चों को अंतरिक्ष तक पहुंचने के सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का समापन - प्रिंसिपल मीट का हुआ आयोजन  जयपुर। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय ...