Saturday, May 29, 2021

एलएंडटी ने कोविड से प्रभावित कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों को वित्तीय और बीमा सहायता प्रदान की

मुंबई29 मई2021- देशभर में फैली कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के दौरान लार्सन एंड टुब्रो ने कोरोना से प्रभावित अपने कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों की सुरक्षा और देखभाल पर विशेष जोर दिया है। इस घातक वायरस से प्रभावित लोगों की प्रमुख चिंताओं में से एक इलाज के लिए चिकित्सा खर्च का इंतजाम करना है।

कंपनी ने अपने कर्मचारियों के लिए विशेष रूप से कोविड-19 के लिए एक अतिरिक्त बीमा कवर की पेशकश की है। यह वैकल्पिक बीमा कवर कोविड -19 जैसे रोगों के लिए एक संचारी रोग कवर हैजिसमंे प्रति कर्मचारी  35 लाख की बीमा राशि के साथ 12 महीने की अवधि के लिए पॉलिसी मिलती है। पाॅलिसी अवधि के दौरान कोविड- 19 से किसी कर्मचारी की मृत्यु हो जाने पर उसके परिजनों को 100 प्रतिशत बीमा राशि (यानी  35 लाख) का एकमुश्त भुगतान प्राप्त होता है। अस्पताल में या होम क्वारंटाइन/संस्थागत या होटल क्वारंटाइन में किसी भी तरह की कोविड मृत्यु होने पर बीमा राशि का भुगतान किया जाएगा। यह पाॅलिसी ग्रुप टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी के अतिरिक्त हैजिसमें कर्मचारियों के लिए  50 से 60 लाख का कवरेज उपलब्ध है।

श्री एस एन सुब्रह्मण्यनसीईओ और एमडीलार्सन एंड टुब्रो कहते हैं-

मौजूदा दौर महामारी काल के सबसे चुनौतीपूर्ण चरणों में से एक है। महामारी की दूसरी लहर ने हमें बुरी तरह और बड़ी तेजी से प्रभावित किया है। ऐसे समय में हमें अपने परिवार के साथ खड़ा होना पड़ता है। प्रत्येक कर्मचारी एलएंडटी परिवार का हिस्सा है और हम महामारी से प्रभावित अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों की मदद करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। हमने अपने कर्मचारियों को कुछ राहत देने के लिए सामूहिक रूप से यह निर्णय लिया हैजिससे प्रभावित लोगों के बोझ और तनाव में काफी कमी आएगीखास तौर पर उन्हें आर्थिक रूप से बहुत सपोर्ट मिलेगा। हालांकि किसी के गुजर जाने से उत्पन्न खालीपन को हम नहीं भर सकतेलेकिन बीमा पाॅलिसी के जरिये हम आवश्यकता पड़ने पर अपने कर्मचारियों के परिवारों की जरूरी सहायता कर सकते हैं। हमें इस महामारी का एकजुट होकर मजबूती के साथ मुकाबला करना होगा और अपनी एकजुटता और ताकत और जोश के साथ ही हम इस बुरे दौर से बाहर निकलकर आगे बढ़ सकेंगे।’’

वित्तीय दबाव को कम करने और अतिरिक्त बीमा कवरेज के साथ कर्मचारियों की मदद करने के लिएकंपनी ने जीवन के लिए खतरा बने रोगों के लिए एक वैकल्पिक टॉप अप मेडिकल हॉस्पिटलाइजेशन कवरेज योजना पर भी बातचीत की हैजिसमें कोविड से संबंधित अस्पताल में भर्ती होना भी शामिल है। सभी कर्मचारी और उनके परिवार वैकल्पिक टॉप अप मेडिकल हॉस्पिटलाइजेशन योजना के तहत 365 दिनों की अवधि के लिए या कर्मचारी के अलग होने की तारीख तकजो भी पहले होकवर होते हैं। टॉप अप राशि  2 लाख से  12 लाख तक है। इस नियमित चिकित्सा बीमा कवर का उपयोग कर्मचारी कोविड-19 अस्पताल में भर्ती होने के लिए भी कर सकते हैं। कंपनी ने कोविड प्रभावित कर्मचारियों के लिए प्रति वर्ष  6.25 लाख तक की चिकित्सा सहायता की भी पेशकश की है। यह लाभ मृत कर्मचारियों के जीवनसाथी और बच्चों के लिए भी लागू है।

बच्चों की शिक्षा और जीवनसाथी के लिए सहायता

सेवा के दौरान गुजरने वाले कर्मचारियों के 3 वर्ष से 25 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों को शिक्षा के लिए सहायता प्रदान की जा रही है। जो छात्र प्री-प्राइमरीप्राइमरीसेकेंडरीजूनियर और सीनियर कॉलेज और प्रोफेशनल कोर्स में पढ़ रहे हैंवे इस योजना के तहत पात्र हैं।

कंपनी व्यावसायिक प्रशिक्षण और शिक्षा के लिए भी सहायता प्रदान करती हैताकि रोगग्रस्त कर्मचारियों के जीवनसाथी को या पूरी तरह से अक्षम कर्मचारियों को रोजगार के योग्य बनाने में मदद की जा सके। प्रति वित्तीय वर्ष पाठ्यक्रम शुल्क के 75 प्रतिशत हिस्से की प्रतिपूर्ति की जाएगीजो पाठ्यक्रम की अवधि के लिए अधिकतम तीन वर्ष के लिए होगी। यह सहायता अधिकतम  1 लाख की सीमा के साथ लागू होगी। चुने गए पाठ्यक्रम से जीवनसाथी को रोजगार योग्य बनने में मदद मिलेगी या उसे स्वरोजगार शुरू करने में मदद मिलेगी।

 

 

No comments:

Post a Comment

मंगलयान और चंद्रयान ने दिखाए बच्चों को अंतरिक्ष तक पहुंचने के सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का समापन - प्रिंसिपल मीट का हुआ आयोजन  जयपुर। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय ...