Thursday, May 13, 2021

एस के फिनकॉर्प ने टीपीजी ग्रोथ, नार्वेस्ट वेंचर्स पार्टनर्स, इवोल्वेंस और प्रमोटर श्री राजेन्द्र सेतिया से 3,370 मिलियन की सीरिज ई-फंडिंग हासिल की

जयपुर,13 मई, 2021- गैर सूचीबद्ध पुराने वाहनों और एसएमई फाइनेंसर्स के क्षेत्र में सबसे बड़ी कम्पनियों में से एक एस के फिनकॉर्प  लिमिटेड (एस के’, ‘एस के फिनकाॅर्पया कम्पनी’) ने आज घोषणा की इसे शीर्ष वैश्विक निवेशकों से 3,370 मिलियन का निवेश प्राप्त हुआ है। इस निवेश के साथ ही अब कम्पनी के पास बड़े निवेशकों का बाहरी पूँजीगत निवेश 10 बिलियन से ज्यादा हो गया है। मौजूदा निवेशक टीपीजी ग्रोथ, नार्वेस्ट वेंचर्स पार्टनर्स और इवोल्वेंस और प्रमोटर श्री राजेन्द्र सेतिया ने इस राउंड में निवेश किया है।

इस ट्रांजेक्शन से निवेशकों ने एक बार फिर एस के की काम करने की श्रेष्ठ क्षमताओं, लगातार बेहतर प्रदर्शन और पुराने वाहनों तथा एसएमई फाइनेंस के कम आंके गए क्षेत्र में इसकी मजबूत स्थिति में भरोसा जताया है।

इस ट्रांजेक्शन में स्पार्क कैपिटल ने कम्पनी के विशेष वित्तीय सलाहकार की भूमिका निभाई है।

एस के के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री राजेन्द्र सेतिया ने इस ट्रांजेक्शन के सफलतापूर्वक पूरे होने पर कहा, ‘‘पिछले कुछ वर्षों में हमने उत्तर, पश्चिम और मध्य भारत में गहरे वितरण नेटवर्क के जरिए ग्रामीण और अर्ध शहरी बाजार मंे अपने लिए विशेष स्थान बनाया है और आॅन ग्रांउड सेल्स तथा कलेक्शन इन्फ्रास्ट्रक्चर के जरिए उन ग्राहकों  तक पहुंच बनाई है जहां तक ज्यादा लोग पहुंचे नहीं हैं। इसके साथ ही मजबूत अंडरराइटिंग और एसेट क्वालिटी पर फोकस किया है। हम हमारे मौजूदा निवेशकों टीपीजी ग्रोथ, नार्वेस्ट वेंचर पार्टनर्स और इवोल्वेंस के लगातार सहयोग और एस के में भरोसे के लिए उन्हें धन्यवाद देते हैं। वे, बारिंग इंडिया और हमारे 45 शीर्ष सहयोगी हमारी बैलेंस शीट और विकास की योजनाओं को बहुत मजबूती प्रदान करते हैं और इससे हम पुराने वाहनों तथा एसएमई फाइनेंस सेग्मेंट में अग्रणी हो कर उभरे हैं।’’

टीपीजी ग्रोथ के पार्टनर अक्षय तन्ना ने कहा, ‘‘हमने पिछले ढाई वर्ष में तीसरी बार कम्पनी में निवेश किया है और हम एस के के बिजनेस माॅडल में भरोसा करते रहेंगे, क्योंकि इससे बैंकिंग सुविधा से वंचित या बहुत कम बैंकिंग सुविधा वाली भारत की जनसंख्या तक लार्ज क्रेडिट की सुविधा पहुंची है। कम्पनी के संस्थापक और मैनेटमेंट टीम की मजबूती के कारण कम्पनी ने कई बाधाओं को आसानी से पार किया है और भारत में ग्रामीण क्षेत्र पर केन्द्रित एक सफल लैंडिंग प्लेटफार्म खड़ा किया है। हम एस के के साथ हमारे रिश्ते और मजबूत कर बहुत खुश हैं और लंबे समय तक चलने वाली एस की सफलता को खड़ा करने में एक टीम के रूप में काम करते रहना चाहते हैं।’’

नार्वेस्ट इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर निरेन शाह ने कहा, ‘‘एस के सबसे बड़ी बात यही है कि बैंकिंग सुविधा का बहुत कम उपयोग करने वाले सैग्मेंट के बीच पिछले 25 वर्ष में बहुत बेहतर ढंग से काम किया है, जमीनी स्तर पर बहुत अच्छा इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा किया है और विभिन्न श्रेणियों के ऋणियों के लिए कई तरह के उत्पाद प्रस्तुत किए हैं। संस्थागत प्राइवेट इक्विटी इन्वेस्टर्स के रूप में बहुत जल्दी काम शुरू करने वाली कंपनी एस के की परिवर्तन संबंधी यात्रा को हमने देखा है। हम इस रिश्ते को और गहराई देने तथा चैथी बार भी इसमें निवेश कर खुशी महसूस करेंगे, ताकि इसका मैनेजमेंट आने वाले वर्षों में कम्पनी को मार्केट लीडर बना सके।’’

इवोल्वेंस के मैनेजिंग पार्टनर अजित कुमार ने कहा, ‘‘अलग-अलग समय जिसमें कोविड का समय भी शामिल है, ऐसे में एस के ने जिस क्षमता के साथ लाभ कमाते हुए अपने को आगे बढ़ाया है, वह इसकी मजबूती का सबूत है। हम 2017 से कम्पनी में निवेशक हैं और एस के की इस शानदार यात्रा के सहभागी बन कर बहुत रोमांचित हैं। हम इसे अगले चरण में भी इसी तरह आगे बढ़ने में सहयोग देते रहेंगे।’’

No comments:

Post a Comment

मंगलयान और चंद्रयान ने दिखाए बच्चों को अंतरिक्ष तक पहुंचने के सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का समापन - प्रिंसिपल मीट का हुआ आयोजन  जयपुर। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय ...