Tuesday, May 25, 2021

भारतपे ने लॉन्च किया ‘कोविड वैक्सीनेशन कैश बैक’: मर्चेन्ट्स को कोविड-19 टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने हेतु शुरू किया अनूठा अभियान

नई दिल्ली, 25 मई, 2021:मर्चेन्ट्स के लिए देश की अग्रणी फिनटेक कंपनियों में से एक, भारतपे ने कोविड-19 के खिलाफ़ भारत सरकार के टीकाकरण अभियान को और अधिक सशक्त बनाने के लिए एक अनूठी पहल की घोषणा की है।कंपनी के कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व- ‘भारतपेकेयर्सके तहत लॉन्च किया गया यह अभियान अपनी तरह का पहला प्रोग्राम है जो कंपनी के 6 मिलियन से अधिक मर्चेन्ट पार्टनर्स को कोविड-19 टीकाकरण के बारे में जागरुक बनाएगा, साथ ही उन्हें बिना देरी किए टीका लगवाने हेतु प्रोत्साहित भी करेगा।देश के पहले वैक्सीनेशन कैशबैक प्रोग्राम के तहत, भारपे के मर्चेन्ट्स को भारतपे ऐप के ज़रिए अपना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट स्कैन करने पर उनके बैंक खाते में रु 300 का इंस्टेन्ट कैशबैक मिलेगा।

कंपनी ने कोविड-19 टीकाकरण के बारे में प्रासंगिक जानकारी देने के लिए अपने ऐप पर कोविड-19 वैक्सीन ट्रैकर के लॉन्च का भी ऐलान किया है।इस वैक्सीन ट्रैकर की मदद से मर्चेन्ट्स अपनी लोकेशन के अनुसार, नज़दीकी कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र का विवरण देख सकतेहैं।साथ ही अपने चुने हुए केन्द्र में स्लॉट उपलब्ध होने पर नोटिफिकेशन भी पा सकते हैं।

अभियान के बारे में विस्तार से बात करते हुए अश्नीर ग्रोवर, सह-संस्थापक एवं सीईओ, भारतपे ने कहा, ‘‘कोविड के दौरान भारत के दुकानदारों ने लोगों को ज़रूरी सामान उपलब्ध करा कर महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।अब समय आ गया है कि उन्हें धीरे-धीरे अनलॉक के साथ काम करना होगा। ऐसे में भारतपे सभी दुकानदारों को प्रोत्साहित करना चाहता है कि वे जल्द से जल्द टीका लगवा लें, ताकि आने वाले समय में उनकी दुकानें खुलने और कारोबार बढ़ने के साथ-साथ वे पूरी तरह से सुरक्षित रह सकें।क्योंकि अब कारोबार फिर से सामान्य होने लगेंगे।’’

भारतपे देशभर में छोटे मर्चेन्ट्स एवं किराना स्टोर्स मालिकों के लिए वित्तीय समावेशन को वास्तविकता बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। कंपनी एक डिजिटल बैंक बनना चाहती है तथा ऐसे वित्तीय उत्पादों की व्यापक रेंज के लॉन्च द्वारा देश में 50 मिलियन एसए मई समुदाय को सशक्त बनाने के लिए तत्पर है, जो उनकी ज़रूरतों को पूरा कर कारोबारों को सशक्त बना सकें।

भारतपे के बारे में

भारतपे की स्थापना 2018 में अश्नीर ग्रोवर और शाश्वतन करानी के द्वारा की गई। भारतीय मर्चेन्ट्स के लिए वित्तीय समावेशन को वास्तविकता में बदलना इस का मूल दृष्टिकोण है। 2018 में, भारतपे ने भारत के पहले यूपीआई इंटरोपरेबल क्यूआर कोड, पहली ज़ीरो एमडीआर पेमेन्ट एक्सेप्टेन्स सर्विस, पहली यूपीआई पेमेन्ट बैक्ड मर्चेन्ट कैश अडवान्स सर्विस का लॉन्च किया। 2020 में कोविड के बाद भारतपे ने भारत के पहले ज़ीरो एमडीआर कार्ड एक्सेप्टेन्सटर्मिनल- भारत स्वाइप का लॉन्च किया। वर्तमान में 100 शहरों के 60 लाख से अधिक मर्चेन्ट्स को अपनी सेवाएं प्रदान करने वाली कंपनी यूपीआई ऑफलाईन लेन देन में अग्रणी है और एक माह में 10 करोड़ से अधिक यूपीआई लेन देन प्रसंस्कृत करती है (सालाना 10 बिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक लेन देन)।कंपनी अपने लॉन्च के बाद से अपने मर्चेन्ट्स को रु 1600 करोड़ से अधिक वितरण कर चुकी है । भारतपे का पीओएस कारोबार प्रति माह रु 1200 करोड़ से अधिक के भुगतान को प्रसंस्कृत करता है। भारतपे ने अब तक इक्विटी और डेब्ट में तकरीबन 300 मिलियन अमेरिकी डॉलर की राशि जुटाई है। कंपनी के प्रमुख निवेशकों की सूची में को एट्यू मैनेजमेन्ट, रिबिट कैपिटल, इनसाईट पार्टनर्स, स्टीडव्यू कैपिटल, बी नेक्स्ट, एम्प्लो और सिकोइया कैपिटल शामिल हैं ।

 

No comments:

Post a Comment

जेके सीमेंट लिमिटेड ने मध्य भारत में अपनी उत्पादन क्षमता का किया विस्तार - उज्जैन, मध्य प्रदेश में आगामी ग्राइंडिंग यूनिट की आधारशिला रखी

उज्जैन, 05 दिसम्बर 2022: जेके सीमेंट लिमिटेड भारत में ग्रे सीमेंट के अग्रणी निर्माताओं और दुनिया के सबसे बड़े व्हाइट सीमेंट निर्माताओं में स...