Thursday, March 18, 2021

आईसीआईसीआई लोम्बार्ड के InstaSpect ने दस लाख से अधिक ग्राहकों की गाड़ियों का डैमेज क्लेम तुरंत मंजूर कराया

जयपुर 18 मार्च 2021  – जब भी हमारी कीमती गाड़ी किसी दुर्घटना का शिकार होती है तो यह हमारे लिए मुश्किल दौर होता है. और हम जिस सबसे बुरी स्थिति से बचना चाहते हैं वह यह कि क्लेम सेटलमेंट प्रोसेस में देरी न हो.

इसी दिक्कत को ध्यान में रखते हुए निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी गैर जीवन बीमा कंपनी आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस ने DIY ( Do-it-yourself) फीचर लॉन्च किया है. इसका नाम ‘InstaSpect’ (इंस्टा स्पेेक्टै) है. यह IL TakeCare App  के तहत लॉन्च किया गया है. इस फीचर से फिजिकल सर्वे के जरिये गाड़ियों के नुकसान का जायजा लेने की जरूरत खत्म हो जाती है. इसकी जगह इसमें लाइव स्ट्रीमिंग का ऑप्शन शामिल किया गया है, जिससे क्षतिग्रस्त वाहन का वर्चुअल एसेसमेंट हो जाता है. इससे क्लेम अप्रूवल का टाइम घट कर महज कुछ घंटों का रह जाता है. इस फीचर को मोटर इंश्योरेंस खरीदने वाले ग्राहकों का जबरदस्त समर्थन मिला है. इसकी शुरुआत से अब तक दस लाख से अधिक मोटर इंश्योरेंस क्लेम को अप्रूवल मिल चुका है.

डिजिटल दुनिया के तौर पर इस न्यू नॉर्मल में InstaSpect ने काफी अच्छी रफ्तार पकड़ ली है और अब ज्यादा से ज्यादा लोग कोरोना के इस दौर में अब घर से बाहर निकले बिना ही क्लेम सेटलमेंट करवा रहे हैं. एजेंट और सर्वेयर को कोरोना के दौर में सोशल डिस्टेंसिंग के कारण यात्रा करने में दिक्कतें आ रही थीं. ऐसे में InstaSpect बिना किसी दिक्कत और देरी के लिए मोटर इंश्योरेंस क्लेम का सबसे आसान तरीका बन कर उभरा है.

2018 में इसकी शुरुआत हुई थी और तब से यह पूरे देश में ग्राहकों के बीच बेहद लोकप्रिय बन कर उभरा है. इसमें लाइव वीडियो कॉल के जरिये इंस्टेंट सर्वे जैसे कई इंटरएक्टिव फीचर शामिल हैं. इसमें क्लेम मैनेजर्स की मदद से वीडियो कॉल और रियल टाइम में पूछताछ के जरिये समाधान से जुड़े फीचर हैं. इसने ऐप के इस फीचर की लोकप्रियता दिलाने में बेहद मदद की है.

यह मोबाइल सेल्फ इंस्पेकशन फीचर वाहनों की फिजिकल जांच की जरूर को खत्म कर देता है. ग्राहक को सिर्फ ‘IL TakeCare app’  खोलना पड़ता है और ‘InstaSpect’ option पर क्लिक करना पड़ता है. यह ग्राहकों को क्लेम मैनेजरों से जोड़ देता है. क्लेम मैनेजर लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग के जरिये ग्राहक को गाइड करता है और ऑनलाइन ही वाहन को हुई क्षति का आकलन कर लेता है. उसके बाद वह ग्राहक को डैमेज और लाइबिलिटी का एक मोटा अनुमान बता देता है. फिर ग्राहक क्लेम मैनेजर के आकलन को स्वीकार कर सकता है. इससे क्लेम तुरंत आगे अप्रूवल के लिए बढ़ा दिया जात है. इसके बाद क्लेम मैनेजर नेटवर्क में मौजूद नजदीकी गैराज को वाहन लाने का निर्देश दे देता है. इससे गैराज को तुरंत तैयार रहने का निर्देश मिल जाता है ताकि गाड़ी पहुंचते ही इसकी रिपेयरिंग शुरू की जा सके.

दस लाख से ज्यादा डैमेज क्लेम अप्रूवल का आंकड़ा पार करने पर हेल्थ एंड मोटर, अंडरराइटिंग एंड क्लेम्स के प्रमुख अमिताभ जैन ने कहा, “वाहन दुर्घटना एक परेशान करने वाली चीज होती है. रिपेयर और क्लेम अप्रूवल प्रक्रिया से जूझना एक बड़ा कठिन काम होता है. लेकिन आईसीआईसीआई लोम्बार्ड में हम कोशिश करते हैं कि ग्राहकों का क्लेम अनुभव बेहतरीन रहे. उन्हें इसमें किसी भी तरह की कोई परेशानी न आए. . InstaSpect न सिर्फ ग्राहकों को तुरंत सॉल्यूशंस मुहैया कराता है बल्कि यह इस्तेमाल करने में भी बेहद आसान है. यह इस्तेमाल में आसान एक ऐप इंटरफेस के जरिये ग्राहकों का सशक्तिकरण करता है. हमारी कोशिश है कि हम उन्हें मोटर इंश्योरेंस श्रेणी में बेहतरीन अनुभव दें. हमारी यह पहल इसी का हिस्सा है.  हम चाहते हैं कि ग्राहकों को टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस के जरिये बेहतरीन सेवा दें. ”

आईसीआईसीआई लोम्बार्ड लगातार ऐसी कोशिश में लगी है कि वह ज्यादा से ज्यादा प्रभावी तरीके से अपने ग्राहकों से जुड़े. ग्राहक उंगलियों के टच के जरिये इंश्योरेंस के तमाम फायदे ले सकें. कंपनी कई कॉन्टेक्टलेस सर्विस मुहैया रही है. इनमें ऐसे फीचर हैं जिससे वे घर से बाहर निकले बिना ही सर्विस हासिल कर सकें. IL TakeCare App इस दिशा में ऐसा ही एक सॉल्यूशंस है. यह ऐप हेल्थ इंश्योरेंस ग्राहकों को ओपीडी सॉल्यूशंस भी मुहैया कराता है. यह न सिर्फ उन्हें क्लेम लेने और सर्विस देने में मददगार है बल्कि यह वेलनेस, टेली-कंस्लटेशन और होम-बेस्ड केयर भी मुहैया कराता है. IL Take Care app ग्राहकों के मोटर, हेल्थ और वेलनेस जरूरतों के लिए वन-स्टॉप सॉल्यूशन मुहैया कराता है. आईसीआईसीआई लोम्बार्ड अपने ब्रांड की खासियत के मुताबिक नए-नए सॉल्यूशंस लाती जा रही है ताकि यह अपने ध्येय वाक्य, ‘निभाए वादे’  पर खरा उतर सके.

No comments:

Post a Comment

बीते कल में आज की परछाई

बीते हुए कल में आज भी झांक कर देखता हूं तो बाबूजी की स्मृतियां और उनके साथ बीते अनेकों और अनगिनत पल आज भी मुझे अपने आस-पास घिरे जीवन से लड़ने...