Wednesday, March 31, 2021

डॉ. अनीश शाह महिंद्रा एंड महिंद्रा के प्रबंध निदेशक और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी नियुक्‍त किये गये

जयपुर 31 मार्च 2021  – भारतीय बहुर्राष्‍ट्रीय कंपनी, उत्पादन की दृष्टि से भारत के सबसे बड़े वाहन निर्माताओं में से एक और दुनिया में ट्रैक्‍टर्स के सबसे बड़े निर्माता, महिंद्रा एंड महिंद्रा के निदेशक मंडल ने घोषणा की कि डॉ. अनीश शाह, जो वर्तमान में उप-प्रबंध निदेशक और समूह के मुख्‍य वित्‍तीय अधिकारी हैं, 2 अप्रैल, 2021 से प्रबंध निदेशक और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी का पदभार संभालेंगे।

यह घोषणा 20 दिसंबर, 2019 को शीर्ष प्रबंधन उत्‍तराधिकार घोषणा के बाद हुई है। नवंबर में, श्री आनंद महिंद्रा द्वारा नॉन-एक्‍जीक्‍यूटिव चेयरमैन की भूमिका ग्रहण किये जाने के बाद, डॉ. अनीश शाह महिंद्रा ग्रुप के इतिहास में पहले प्रोफेशनल एमडी एवं सीईओ होंगे, जिन पर महिंद्रा ग्रुप के व्‍यवसायों की देखरेख की संपूर्ण जिम्‍मेदारी होगी।

डॉ. पवन गोयनका 2 अप्रैल, 2021 से महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एवं मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी व बोर्ड ऑफ डाइरेक्‍टर्स के पद से सेवानिवृत्‍त होंगे। प्रबंध निदेशक और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी के रूप में उनकी भूमिका में, उन पर ऑटोमोबाइल एवं फार्म इक्विपमेंट सेक्‍टर्स के देखरेख की जिम्‍मेदारी थी। राजेश जेजुरिकर, कार्यकारी निदेशक इन क्षेत्रों की संपूर्ण जिम्‍मेदारी संभालेंगे और वो डॉ. शाह को रिपोर्ट करेंगे।

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन, आनंद महिंद्रा ने कहा, ”बोर्ड की ओर से, मैं पवन जी को कंपनी में उनके सैंताइस वर्ष के कॅरियर में उनके द्वारा किये गये कार्यों को सलाम करता हूं जिनके चलते कंपनी मजबूती से आगे बढ़ी है। पिछले वर्ष की पूरी अवधि में ट्रांजिशन को यथसंभव अधिकाधिक सरल एवं सुचारू बनाने के लिए उनके प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करता हूं।”

उन्‍होंने आगे कहा, ”पिछले 75 वर्षों की हमारी सफलता और कामयाबी का एक कारण यह था कि हमने सही समय पर सही मात्रा में सही तरीके बदलाव लाये। अनीश, महिंद्रा ग्रुप के लिए उपयुक्‍त लीडर हैं। बतौर प्रबंध निदेशक और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, वो महिंद्रा ग्रुप के सभी व्‍यवसायों की संपूर्ण रूप से देखभाल करेंगे, जिसमें हमारे वैश्विक परिचालन, ट्रांसफॉर्मेशन एजेंडा एवं विभिन्‍न रणनीतिक प्रोग्राम्‍स की सहक्रियाशीलता व उन्‍हें आगे बढ़ाना शामिल हैं। अनीश, राइज की भावना के प्रतीक हैं और उनमें असाधारण नेतृत्‍व क्षमता, दमदार अंतर्राष्‍ट्रीय एक्‍सपोजर है। उनमें हमारे ग्राहकों, भागीदारों और हमारे कर्मचारियों के साथ दीर्घकालिक संबंध कायम करने की विशिष्‍ट योग्‍यता है। मेरा मानना है कि भविष्‍य में महिंद्रा का नेतृत्‍व संभालने के लिए उनसे बेहतर कोई दूसरा नहीं है।”

अपनी नियुक्ति पर टिप्पणी करते हुए, डॉ. अनीश शाह ने कहा, “मैं महिंद्रा ग्रुप जैसे असाधारण संगठन जिनकी असली संपत्ति उनके लोगों में निहित है जो इसके मूल मूल्यों को अपनाते हैं और हर दिन अपने उद्देश्य को जीते हैं, का नेतृत्‍व संभालने की जिम्‍मेदारी प्राप्‍त करके अभिभूत हूं और विनम्रतापूर्वक इसे स्‍वीकार करता हूं। मुझे उम्‍मीद है कि श्री आनंद और मेरे सभी सहयोगियों के साथ मिलकर काम करते हुए हम विकास का एक नया अध्याय लिख सकेंगे और हमारे हितधारकों के जीवन में सकारात्मक बदलाव ला सकेंगे और सभी का आगे बढ़ना सुनिश्चित कर सकेंगे।”

डॉ. अनीश शाह वर्तमान में महिंद्रा समूह के उप प्रबंध निदेशक और ग्रुप सीएफओ हैं। वह 2015 में ग्रुप प्रेसिडेंट-स्ट्रेटजी के रूप में महिंद्रा में शामिल हुए, जहां उन्होंने रणनीति विकास का नेतृत्व किया; डिजिटलीकरण और डेटा विज्ञान जैसी क्षमताएं निर्मित की; समूह की कंपनियों में तालमेल सक्षम बनाया और जोखिम और प्रदर्शन समीक्षा संगठनों का प्रबंधन किया। महिंद्रा में शामिल होने से पहले, अनीश जीई कैपिटल इंडिया के अध्यक्ष और सीईओ थे, जहां उन्होंने व्यवसाय के परिवर्तन का नेतृत्व किया, जिसमें इसके एसबीआई कार्ड संयुक्त उद्यम का बदलाव शामिल था। जीई में उनका करियर 14 साल का रहा, जिस दौरान वो जीई कैपिटल की यूएस और ग्लोबल यूनिट्स में कई लीडरशिप पदों पर रहे। जीई के अलावा, उन्‍हें वैश्विक व्यवसायों में विविधतापूर्ण अनुभव भी प्राप्‍त है। उन्होंने बैंक ऑफ अमेरिका के अमेरिकी डेबिट उत्पाद व्यवसाय का नेतृत्व किया। उन्होंने मुंबई में सिटी बैंक के साथ अपने करियर की शुरुआत की और उसके बाद बैन एंड कंपनी के स्‍ट्रेटजी कंसल्‍टेंट के रूप में बोस्टन चले गये।

अनीश ने कार्नेगी मेलन के टेपर स्‍कूल ऑफ बिजनेस से पीएचडी हासिल की है। उन्‍होंने कार्नेगी मेलन से मास्‍टर डिग्री प्राप्‍त की और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, अहमदाबाद से मैनेजमेंट में पोस्‍ट-ग्रैजुएट डिप्‍लोमा किया।

महिंद्रा के विषय में

महिन्द्रा समूह 19.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर वाला कंपनियों का संघ है, जो नये-नये मोबिलिटी समाधानों के जरिए और ग्रामीण समृद्धि, शहरी रहन-सहन को बढ़ाते हुए, नये व्यवसायों को प्रोत्साहन देकर और समुदायों की सहायता के जरिए लोगों को राइज अर्थात़ उत्थान करने में सक्षम बनाता है। इसका ट्रैक्टर, उपयोगिता वाहन, सूचना प्रौद्योगिकी और वैकेशन ओनरशिप में अग्रणी स्थान है और यह वॉल्युम की दृष्टि से दुनिया की सबसे बड़ी ट्रैक्टर कंपनी है। कृषि-व्यवसाय, एयरोस्पेस, कल-पुर्जे, परामर्श सेवाओं, प्रतिरक्षा, ऊर्जा, औद्योगिक सेवाओं, लॉजिस्टिक्स, जमीन-जायदाद, खुदरा, इस्पात और दोपहिये उद्योगों में महिन्द्रा की महत्वपूर्ण मौजूदगी है। इसका मुख्यालय भारत में है। 100 से अधिक देशों में, महिन्द्रा के 2,56,000 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं।

www.mahindra.com  / ट्विटर और फेसबुक: @MahindraRise पर महिंद्रा के बारे में अधिक जानें

No comments:

Post a Comment

उत्कर्ष : तिरंगा थीम पर आयोजित विशाल रक्तदान शिविर का उत्साहपूर्ण समापन

जोधपुर।  उत्कर्ष क्लासेस द्वारा शिक्षाविद एवं समाजसेवी तथा संस्था के संस्थापक व निदेशक डॉ. निर्मल गहलोत के 44वें जन्मदिवस के अवसर पर शनिवार,...