Saturday, March 6, 2021

रालसा की ओर से पुलिस को अनुसंधान तकनीक पर एक दिवसीय विशेष ट्रेनिंग 9 को

महिला एवं बच्चों के अपराध में पुलिस की  जांच में विशेष भूमिका

जयपुर ,(दिनेश शर्मा "अधिकारी")। राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर की ओर से 9 मार्च को महिला एवं बच्चों के विरुद्ध होने वाले सेक्सुअल अपराधों के विषय पर एक दिवसीय ट्रेनिंग प्रोग्राम राजस्थान पुलिस एकेडमी परिसर में आयोजित किया जाएगा।

रालसा के सदस्य सचिव विजेंद्र जैन ने बताया इस प्रोग्राम को रालसा और राजस्थान पुलिस अकैडमी के संयुक्त प्रयासों से पुलिस विभाग के जांच अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा जो महिला और बच्चों के संबंध में जांच के दौरान जुटाए जाने वाले साक्ष्य और जांच प्रक्रिया को प्रभावी बनाने के लिए एक दिवसीय विशेष ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित किया जा रहा है जिससे अपराधी के साक्षी अभाव में बचने की गुंजाइश नहीं रहेगी। जांच अधिकारियों को उन सब तकनीकी बिंदुओं पर विशेष द्वारा  विशेषज्ञ द्वारा प्रकाश डाला जाएगा जो अपराध की तरह तक पहुंचेगा।

रालसा सचिव जैन ने बताया कि यूनिसेफ के बाल अधिकार स्पेशलिस्ट संजय निराला अतिरिक्त महानिदेशक एवं निदेशक पुलिस अकादमी राजीव शर्मा लालसा के डिप्टी सेक्रेटरी प्रथम तोशिता मालाणी संवेदनशील यौन शोषण अपराधों में प्रबंध विशेषज्ञ शालिनी शेरा एविडेंस विशेषज्ञ इंस्पेक्टर धीरज वर्मा अपने तकनीकी अनुभवों को जांच अधिकारियों से साझा करेंगे । पॉक्सो कोर्ट के स्पेशल जज राजेश शर्मा और संयुक्त सचिव रालसा के नीरज भारद्वाज पीड़ितो  के उपकार में पुलिस की भूमिका विषय पर व्याख्यान देंगे।

No comments:

Post a Comment

डब्लयूटीपी पर स्टूडेंटस का ऊर्जावान फ्लैश मॉब

जयपुर। जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट , जयपुर का 16 वां राष्ट्रीय युवा उत्सव ‘ अभ्युदय -2022’ आगामी 9-10 दिसंबर को होगा। इस ...