Tuesday, March 2, 2021

35 वर्षों में, नारायण सेवा संस्थान ने दिव्यांग को व्हीलचेयर और कृत्रिम अंग किए वितरित

जयपुर 02 मार्च 2021  – पिछले 35 वर्षों में, नारायण सेवा संस्थान ने व्हीलचेयर, कृत्रिम अंग, ट्राई साइकिल और कैलीपर्स को अलग-अलग तरीके से वितरित किया है। दुर्घटना और जन्मजात दिव्यांगों की सेवा के लिए, एनजीओ ने गाँव से लेकर शहरों तक भोजन, श्रवण यंत्र और ज़रूरतमंदों को सिलाई मशीन देने के कई शिविर लगाए हैं।

आंकड़ों के मुताबिक, 272353 व्हील चेयर वितरण सख्ंया, 262872 ट्राई साईकिल, 293539 बैसाखी, 55004 श्रवण यंत्र, 5220 सिलाई मशीन, 15262 कृत्रिम अंग और 355597 केलीपर का वितरण किया गया है।

नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया, “संस्थान कई वर्षों से अलग-थलग और जरूरतमंदों की सेवा कर रहा है। कई शिविरों द्वारा स्वास्थ्य, शिक्षा और कौशल अलग-अलग तरीके से प्रदान किए जा रहे हैं। कोविड के दौरान भी निशुल्क राशन किट, वस्त्र वितरण, स्कुल युनिफार्म और कम्बल वितरण किए जा रहे हैं।”

राजस्थान,  उत्तर प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में नारायण गरीब परिवार योजना के तहत, जरूरतमंदों को मुफ्त राशन किट वितरण किया जा रहा हैं।

No comments:

Post a Comment

ज्योतिष हमारी वैदिक परंपरा का हिस्सा : राज्यपाल

राज्यपाल ने किया अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोलॉजी कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जयपुर. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी और पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपु...