Thursday, March 18, 2021

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम 17 मार्च, 2021 को खुलेगा

जयपुर 18 मार्च 2021- सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक ₹ 10 के अंकित मूल्य के अपने इक्विटी शेयरों के लिए आरंभिक सार्वजनिक निर्गम 17 मार्च, 2021 को खोलेगा। शुद्ध ब्याज मार्जिन, रिटर्न आॅन एसेट्स, यील्ड, डिपाॅजिट ग्रोथ और सबसे कम लागत-आय अनुपात के मामले में सूर्योदय स्माॅल फाइनेंस बैंक देश में अग्रणी स्मॉल फाइनेंस बैंकों की सूची में शामिल है (स्रोत- क्रिसिल रिपोर्ट)। बैंक का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम बुधवार, 17 मार्च, 2021 से शुरू होकर शुक्रवार, 19 मार्च, 2021 को बंद होगा। ऑफर का प्राइस बैंड ₹ 303 से ₹ 305 प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है।

इस आॅफर में 8,150,000’ इक्विटी शेयरों के फ्रेश इश्यू और 10,943,070 तक इक्विटी शेयरों की बिक्री के लिए एक प्रस्ताव किया गया है। इसमें 4,387,888 इक्विटी शेयर इंटरनेशनल फाइनेंस काॅर्पोरेशेन को, 2,021,952 ईक्विटी शेयर गाजा कैपिटल फंड को, 1,889,845 इक्विटी शेयर डीडब्ल्यूएम (इंटरनेशनल) मॉरीशस लिमिटेड, 750,000 इक्विटी शेयरों तक एचडीएफसी होल्डिंग्स लिमिटेड को, 1,500,000 इक्विटी शेयरों तक आईडीएफसी फस्र्ट बैंक को, 100,000 इक्विटी शेयरों तक अमेरिकॉर्प वेंचर्स लिमिटेड को, 186,966 इक्विटी शेयर कोटक महिंद्रा लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को और 106,419 इक्विटी शेयर गाजा कैपिटल इंडिया एआईएफट्रस्ट (अपने ट्रस्टी, गाजा ट्रस्टी कंपनी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा प्रतिनिधित्व) को शामिल किया गया है (सामूहिक रूप से, ‘सेलिंग शेयरहोल्डर्स’ के रूप में और इस तरह के इक्विटी शेयर्स  को ‘आॅफर्ड शेयर्स संदर्भित किया गया है)।

इस निर्गम में 500,000 इक्विटी शेयरों तक का हिस्सा पात्र कर्मचारियों (‘एम्प्लाॅई रिजर्वेशन पोर्शन) के लिए आरक्षित है (पोस्ट-इश्यू पेड-अप इक्विटी शेयर पूंजी का 0.47 प्रतिशत तक)। और एम्प्लाॅई रिजर्वेशन पोर्शन को घटाने के बाद बचे निर्गम को बाद में ‘नेट इश्यू’ के रूप में संदर्भित किया जाता है। बैंक और सेलिंग शेयरहोल्डर्स बुक रनिंग लीड मैनेजर्स के परामर्श से, पात्र कर्मचारियों को एम्प्लाॅई रिजर्वेशन पोर्शन में नीलामी लगाने पर इश्यू प्राइस के 10 प्रतिशत (₹ 30 प्रति इक्विटी शेयर के बराबर) तक की छूट दे सकते हैं (एम्प्लाॅई डिस्काउंट)।

’बैंक ने 5,208,226 इक्विटी शेयरों का प्री-आईपीओ प्लेसमेंट किया है, जिसमें शामिल हैं- (1). एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को 3,084,833 इक्विटी शेयरों का निजी प्लेसमेंट ₹ 291.75 प्रति इक्विटी शेयर की कीमत पर लगभग ₹ 900.00 मिलियन (2). 1,713,795 इक्विटी शेयरों का निजी प्लेसमेंट एक्सिस फ्लेक्सी कैप फंड के लिए ₹ 291.75 प्रति इक्विटी शेयर की कीमत पर लगभग ₹ 499.99 मिलियन (3). 342,760 इक्विटी शेयरों का एक निजी प्लेसमेंट एक्सिस इक्विटी हाइब्रिड फंड को ₹ 291.75 के मूल्य पर प्रति इक्विटी शेयर के लिए लगभग ₹ 100.00 मिलियन और (4). किराना व्यापार लिमिटेड को 66,838 इक्विटी शेयरों का एक निजी प्लेसमेंट ₹ 291.75 प्रति इक्विटी शेयर की कीमत पर लगभग ₹ 19.50 मिलियन- शेयरहोल्डर्स के 13 फरवरी, 2021 के दिनांकित और बोर्ड के 23 फरवरी के संकल्प के अनुसार (प्री-आईपीओ प्लेसमेंट)। फ्रेश इश्यू के आकार में प्री-आईपीओ प्लेसमेंट के अनुसार 5,208,226 इक्विटी शेयरों को घटा दिया गया है। इसके अलावा, 2 मार्च, 2021 के बोर्ड के संकल्प के अनुसरण में बैंक ने नवीन निर्गम आकार में 1,763,226 इक्विटी शेयर (27 जुलाई, 2020 को शेयरधारकों द्वारा अनुमोदित फ्रेश इश्यू की सीमा के भीतर) में भी वृद्धि की है। इसके अनुसार, फ्रेश इश्यू का आकार 8,150,000 इक्विटी शेयरों तक हो गया है।

न्यूनतम 49 इक्विटी शेयरों के लिए और उसके बाद 49 इक्विटी शेयरों के गुणकों में बोली लगाई जा सकती है।

यह निर्गम सिक्योरिटी कॉन्ट्रैक्ट्स (रेगुलेशन) रूल्स, 1957 के नियम 19 (2) (बी) के संदर्भ में बुक बिल्डिंग प्रोसेस के जरिए तैयार किया जा रहा है, जैसा कि एसईआर आईसीडीआर रेगुलेशन के रेगुलेशन 31 के साथ पढ़ा गया और सेबी आईसीडीआर विनियमों के विनियमन 6 (1) के अनुपालन में, जिसमें नेट इश्यू का 50 प्रतिशत से अधिक योग्यताधारी संस्थागत खरीदारों (‘क्यूआईबी’, ‘क्यूआईबी पोर्शन’) को आवंटित नहीं किया जाएगा। साथ ही, बैंक और सेलिंग शेयरधारक, बुक रनिंग लीड मैनेजरों के परामर्श से, सेबी आईसीडीआर विनियमों (एंकर इन्वेस्टर पोर्शन) के अनुसार विवेकाधीन आधार पर एंकर निवेशकों को क्यूआईबी पोर्शन का 60 प्रतिशत तक आवंटित कर सकते हैं। इसमें से एक तिहाई हिस्सा घरेलू म्युचुअल फंड के लिए आरक्षित होगा, जो एंकर इनवेस्टर अलोकेशन प्राइस के ऊपर या इससे ऊपर के घरेलू म्यूचुअल फंड से प्राप्त वैध बोलियों के अधीन होगा। एंकर निवेशक पोर्शन में अंडर-सब्सक्रिप्शन, या गैर-आवंटन की स्थिति में, बैलेंस इक्विटी शेयरों को नेट क्यूआईबी पोर्शन में जोड़ा जाएगा। इसके अलावा, नेट क्यूआईबी पोर्शन का 5 प्रतिशत केवल म्यूचुअल फंड के लिए आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, और नेट क्यूआईबी पोर्शन का शेष भाग म्यूचुअल फंड सहित सभी क्यूआईबी के लिए आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, जो कि इश्यू प्राइस पर या इससे ऊपर प्राप्त होने वाली वैध बोलियों के अनुरूप होगा।

इसके अलावा, सेबी-आईसीडीआर रेग्युलेशंस के मुताबिक, गैर-संस्थागत बोलीदाताओं को आवंटन के लिए अनुपात के आधार पर नेट इश्यू का 15 प्रतिशत से कम उपलब्ध नहीं होगा और खुदरा व्यक्तिगत बोलीदाताओं को आवंटन के लिए नेट इश्यू का 35 प्रतिशत से कम उपलब्ध नहीं होगा, मान्य मूल्य के ऊपर या उससे ऊपर प्राप्त होने वाली वैध बोलियों के अधीन। सभी संभावित बोलीदाताओं (एंकर निवेशकों को छोड़कर) को उनके संबंधित एएसबीए खातों का विवरण प्रदान करने के लिए अनिवार्य रूप से ‘एप्लीकेशन सपोर्टेड बाई ब्लाॅक्ड अमाउंट’ (एएसबीए) की प्रक्रिया का उपयोग करना होगा। और यूपीआई मैकेनिज्म का उपयोग करने वाले आरआईबी के मामले में यूपीआई आईडी, यदि लागू हो, जिसमें संबंधित बोली राशियाँ एससीएसबी द्वारा या यूपीआई मैकेनिज्म द्वारा अवरुद्ध की जाती हंै। एंकर निवेशकों को एएसबीए प्रक्रिया के माध्यम से इश्यू में भाग लेने की अनुमति नहीं है।

बैंक टियर – 1 कैपिटल बेस को बढ़ाने के लिए नए सिरे से शुद्ध आय का उपयोग करने का प्रस्ताव करता है, ताकि बैंक की भावी पूंजीगत आवश्यकताओं को पूरा किया जा सके।

एक्सिस कैपिटल लिमिटेड, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज लिमिटेड, आईआईएफएल सिक्योरिटीज लिमिटेड और एसबीआई कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड इस इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं।

No comments:

Post a Comment

जेईसीआरसी इनक्यूबेशन सेंटर ने किया वेंचर कैटेलिस्ट के साथ एमओयू साइन

स्टार्टअप कॉन्क्लेव इवेंट का हुआ आयोजन ,40+ स्टार्टअप ने लिया हिस्सा जयपुर। जेआईसी, जेईसीआरसी ने स्टार्टअपस और उभरते एंटरप्रेन्योरस के एक्सप...