Thursday, March 18, 2021

कल्याण ज्वेलर्स इंडिया लिमिटेड का आईपीओ 16 मार्च, 2021 को खुलेगा

जयपुर 18 मार्च 2021  – कल्याण ज्वेलर्स इंडिया लिमिटेड (”कंपनी”), जो टेक्‍नोपाक रिपोर्ट के मुताबिक 1 मार्च 2020 के राजस्‍व के आधार पर भारत की सबसे बड़ी ज्वेलरी कंपनियों में से एक है, प्रति शेयर `10 अंकित मूल्‍य के इक्विटी शेयर्स (”इक्विटी शेयर्स और ऐसा आईपीओ, ”ऑफर”) का आईपीओ 10 मार्च, 2021 को जारी करेगी। ऑफर का प्राइस बैंड `86 से `87 प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है।


निवेशकों को जोखिम:

I. इस ऑफर से जुड़े पांच लीड मैनेजर्स पिछले तीन वित्‍त वर्षों में 32 पब्लिक इश्‍यूज हैंडल कर चुके हैं, जिनमें से 11 इश्‍यूज लिस्टिंग की तिथि को इश्‍यू मूल्‍य से कम पर बंद हुए।

 

II. मूल्‍य/कमाई अनुपात, वित्‍त वर्ष 2020 में ऊपरी प्राइस बैंड 58.39 पर कंपनी के डाइल्‍युटेड ईपीएस पर आधारित है।

 

III. ऑफर के विक्रेता शेयरधारकों के इक्विटी शेयर्स के अधिग्रहण की औसत लागत शून्‍य प्रति इक्विटी शेयर से लेकर `56.61 प्रति इक्विटी शेयर है और ऑफर के प्राइस बैंड की ऊपरी सीमा `87 प्रति इक्विटी शेयर है।

 

IV. पिछले तीन वित्‍त वर्षों में नेट वर्थ का भारित औसत रिटर्न 4.46% है।

 

 

ऑफर में कंपनी ने कुल `11,750 के इक्विटी शेयर्स का आईपीओ जारी किया है, जिसमें (क) `8,000 मिलियन तक का फ्रेश इश्‍यू (”फ्रेश इश्‍यू”); और (ख) `3,750 मिलियन का ऑफर फॉर सेल शामिल है। ऑफर फॉर सेल वाले इक्विटी शेयर्स में श्री टी.एस. कल्‍याणरमन (”प्रवर्तक विक्रेता शेयरधारक”) के `1,250 मिलियन के इक्विटी शेयर्स और हाइडेल इन्‍वेस्‍टमेंट लिमिटेड (”निवेशक विक्रेता शेयरधारक” और प्रवर्तक विक्रेता शेयरधारक के साथ, ”विक्रेता शेयरधारक”) के `2,500 मिलियन तक के इक्विटी शेयर्स का ऑफर फॉर सेल शामिल है।

ऑफर में पात्र कर्मचारियों (”कर्मचारी आरक्षण हिस्‍सा”) द्वारा सब्‍सक्रिप्‍शन के लिए कुल `20 मिलियन का आरक्षण शामिल है। कर्मचारी आरक्षण हिस्‍सा को छोड़कर शेष ऑफर को ”नेट ऑफर” कहा गया है।

न्‍यूनतम 172 इक्विटी शेयर्स और उसके बाद 172 इक्विटी शेयर्स के गुणकों में बोलियां लगायी जा सकती हैं।

यह ऑफर, सिक्योरिटीज कॉन्ट्रैक्ट्स (रेगुलेशन) रूल्स, 1957 के नियम 19(2)(बी) की शर्तों, यथा संशोधित (“एससीआरआर“), भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (इश्‍यू ऑफ कैपिटल एंड डिस्‍क्‍लोजर रिक्‍वायरमेंट्स) रेगुलेशंस, 2018, के विनियम 31 के साथ पढ़ें, (”सेबी आईसीडीआर रेगुलेशंस”) के अनुसार उपलब्‍ध कराया जा रहा है। यह ऑफर सेबी आईसीडीआर विनियमनों के विनियम 6(1) के अनुसार बुक बिल्डिंग प्रक्रिया के जरिए उपलब्‍ध कराया जा रहा है जिसमें नेट ऑफर का 50 प्रतिशत से अनधिक हिस्सा पात्र संस्थागत खरीदारों (‘‘क्यूआईबी’’) (‘‘क्यूआईबी हिस्सा’’) को आनुपातिक आधार पर आवंटित किये जाने के लिए उपलब्ध होगा, हालांकि कंपनी और विक्रेता शेयरधारक, लीड मैनेजर्स के परामर्श से विवेकानुसार क्यूआईबी का 60 प्रतिशत तक हिस्सा एंकर निवेशकों (एंकर निवेशक हिस्‍सा) को आवंटित कर सकते हैं। एंकर निवेशक हिस्‍सा का एक-तिहाई घरेलू म्युचुअल फंड्स के लिए आरक्षित होगा, बशर्ते घरेलू म्युचुअल फंड्स से एंकर निवेशक आवंटन मूल्य पर या इससे ऊपर वैध बोलियां प्राप्त हों। एंकर निवेशक हिस्‍सा का एक-तिहाई घरेलू म्‍यूचुअल फंड्स के लिए आरक्षित होगा, बशर्ते घरेलू म्‍यूचुअल फंड्स से एंकर निवेशक आवंटन मूल्‍य पर या इससे ऊपर वैध निविदाएं प्राप्‍त हों। क्‍यूआईबी हिस्‍से (एंकर निवेशक हिस्‍सा को छोड़कर) का 5 प्रतिशत आनुपातिक आधार पर केवल म्‍यूचुअल फंड्स को आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा, और शेष क्‍यूआईबी हिस्‍सा, म्‍यूचुअल फंड्स सहित सभी क्‍यूआईबी (एंकर निवेशकों को छोड़कर) को आनुपातिक आधार पर आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा, बशर्ते ऑफर मूल्‍य पर या इससे ऊपर वैध निविदाएं प्राप्‍त हों।

आगे, सेबी आईसीडीआर विनियमनों के अनुसार, नेट ऑफर का 15 प्रतिशत से अनधिक हिस्‍सा आनुपातिक आधार पर गैर-संस्‍थागत निवेशकों को और नेट ऑफर का 35 प्रतिशत से अनधिक हिस्‍सा खुदरा व्‍यक्तिगत निवेशकों को आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा, बशर्ते ऑफर मूल्य पर या इससे अधिक पर वैध निविदाएं प्राप्त हों। एंकर निवेशकों को छोड़कर, सभी बोलीदाताओं को एप्लिकेशन सपोर्टेड बाय ब्लॉक्ड एमाउंट (‘‘एएसबीए’’) प्रक्रिया के जरिए ऑफर में भाग लेना होगा और इस हेतु, उन्हें अपने एएसबीए बैंक खातों की जानकारी देनी होगी जिसमें सेल्‍फ सर्टिफाइड सिंडिकेट बैंक्‍स (एससीएसबी”) द्वाराया यूपीआई विधि के तहत – जो उपयुक्‍त हो – निविदा राशि रोक दी जायेगी। एंकर निवेशकों को एएसबीए प्रक्रिया के जरिए एंकर निवेशक हिस्‍सा में भाग लेने की अनुमति नहीं है।

फ्रेश इश्‍यू के जरिए जुटाये जाने वाले फंड्स का उपयोग, कंपनी द्वारा अग्रलिखित कार्यों के लिए किया जायेगा (i) कंपनी की कार्यशील पूंजी आवश्‍यकताओं की पूर्ति; और (ii) सामान्‍य कॉर्पोरेट उद्देश्‍यों की पूर्ति।

एक्सिस कैपिटल लिमिटेड, सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, आईसीआईसीआई सिक्‍योरिटीज लिमिटेड और एसबीआई कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड, ऑफर के ग्‍लोबल को-ऑर्डिनेटर और बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं। बीओबी कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड, ऑफर का बुक रनिंग लीड मैनेजर है।

यहां बड़े अक्षरों (मोटे अक्षरों) में दी गयी अपरिभाषित शब्‍दावलियों का अर्थ वही होगा जैसा कि कंपनी द्वारा 9 मार्च, 2021 को रजिस्‍ट्रार ऑफ कंपनीजएर्नाकुलम के यहां दाखिल रेड हेरिंग प्रॉस्‍पेक्‍टस में इस तरह की शब्‍दावलियों के लिए दिया गया है।

 

No comments:

Post a Comment

अपने दिल के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखें केयर हेल्थ इंश्योरेन्स के एक्सक्लुज़िव हार्ट इंश्योरेन्स प्लान के साथ

29 सितम्बर, 2022: इस विश्व हृदय दिवस के मौके पर हर दिल की सुरक्षा के लिए दिल से सोचें। अपने दिल का इस्तेमाल प्रकृति, मानवता के लिए और सबसे ज़...