Tuesday, February 2, 2021

महिंद्रा लॉजिस्टिक्स ने दर्ज किया अब तक का सर्वाधिक तिमाही राजस्व


जयपुर 02 फरवरी 2021 –  देश की सबसे बडी थर्ड पार्टी लाॅजिस्टिक्स साॅल्यूशन प्रदाता कंपनियों में से एक महिंद्रा लाॅजिस्टिक्स लिमिटेड (एमएलएल) ने 31 दिसंबर 2020 को समाप्त तिमाही और 9 माह के समेकित वित्तीय परिणामों की आज घोषणा की।

क्यू3 एफवाय20 की तुलना में क्यू3 एफवाय21 का प्रदर्शन

  • राजस्व 908 करोड़ रुपए से 1,047 करोड़ रुपए पर पहुंचा।
  • ईबीआईटीडीए 44 करोड़ रुपए से बढ़कर 55 करोड़ रुपए पर।
  • पीबीटी में 21 करोड़ रुपए से 25 करोड़ रुपए पर।
  • प्रोफिट आॅफ्टर टैक्स 16 करोड रुपए से 18 करोड़ रुपए पर।
  • ईपीएस (डाइल्यूटेड) 2.17 रुपए की तुलना में 2.53 रुपए।
  •  

9एम एफवाय20 की तुलना में 9एम एफवाय21 का प्रदर्शन

  • राजस्व 2659 करोड़ रुपए की तुलना में 2290 करोड़ रुपए पर।
  • ईबीआईटीडीए 131 की तुलना में 101 करोड़ रुपए पर।
  • पीबीटी 68 करोड़ रुपए से 23 करोड़ रुपए पर।
  • प्रोफिट आॅफ्टर टैक्स 45 करोड़ रुपए से 16 करोड़ रुपए पर।
  •                 ईपीएस (डाइल्यूटेड) 6.32 रुपए की तुलना में 2.42 रुपए।
  •  

प्रमुख हाइलाइट्स

– ई-कॉमर्स, कंज्यूमर, फ्रेट फॉरवर्डिंग में मांग में तेजी और ऑटोमोटिव वर्टिकल में रिकवरी के कारण सप्लाई चेन सेगमेंट में मजबूत वृद्धि, तिमाही के दौरान सालाना आधार पर 24 प्रतिशत वृद्धि।

– कोविड संबंधित वॉल्यूम में कमी के कारण एंटरप्राइज मोबिलिटी सेगमेंट में निरंतर नरमी के बावजूद, अब तक का सबसे अधिक त्रैमासिक राजस्व दर्ज किया गया।

– वेयरहाउसिंग सेवाओं और समाधानों से मिलने वाला राजस्व पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 24 प्रतिशत बढ़ा, आपूर्ति श्रृंखला में ग्राहकों की आवश्यकताओं को देखते हुए समाधान आधारित       दृष्टिकोण पर निरंतर ध्यान देने के साथ।

– लॉन्च किया गया ‘ईडीईएल’- इलेक्ट्रिक लास्ट माइल डिलीवरी समाधान। कंपनी को इस दिशा में मजबूत डिमांड नजर आ रही है, लिहाजा और अधिक बेड़े की तैनाती जारी रखने के अवसर के साथ तत्पर।

– सभी प्रकार के परिचालन पर लागत और नकदी प्रवाह पर कड़े नियंत्रण के साथ बनाए गए रिटर्न पर ध्यान केंद्रित।

– सीआईआई स्केल अवार्ड- 2020 में ‘ओवरआॅल एक्सीलैंस इन लॉजिस्टिक्स’ के लिए गोल्ड अवार्ड प्राप्त किया।

महिंद्रा लॉजिस्टिक्स के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एक्जीक्यूटिव आॅफिसर श्री रामप्रवीण स्वामीनाथन ने टिप्पणी करते हुए कहा,

‘‘अपने ग्राहकों को कस्टमाइज्ड और इंटीग्रेटेड साॅल्यूशन प्रदान करने की हमारी रणनीति को लागू करते हुए और बाजार में सुधार के कारण हमारा अनुमान है कि प्रदर्शन में सुधार जारी रहेगा। वित्त वर्ष 20-21 की तीसरी तिमाही में हमने ई-कॉमर्स, ऑटोमोटिव और फ्रेट फॉरवर्डिंग व्यवसायों के महत्वपूर्ण योगदान के साथ, अपने अब तक के सर्वाधिक त्रैमासिक राजस्व को वितरित किया। आपूर्ति श्रृंखला में मजबूत संकेतों के कारण एंटरप्राइज मोबिलिटी सेगमेंट में नजर आने वाली निरंतर नरमी का समायोजन हो गया है, जो कि कोविड -19 महामारी के असर से प्रभावित रहा है। हम अपनी सर्विस लाइनों के विस्तार और विकास का काम जारी रखते हैं। इस तिमाही के दौरान, हमने ‘ईडीईएल’- इलेक्ट्रिक लास्ट माइल डिलीवरी समाधान को लाॅन्च किया, जिसमें 100 प्रतिशत इलेक्ट्रिक पावर्ड वाहनों का उपयोग किया जाता है। इस सेवा को 6 शहरों में लॉन्च किया गया है, अगले 12 महीनों में 14 शहरों तक इसका विस्तार किया जाएगा।

लगभग इसी समय व्यावसायिक वातावरण में सुधार के साथ यह विकास की राह पर आगे बढ़ रहा है। हम आर्थिक माहौल में मजबूत पुनरुद्धार और बहाली के लिए तत्पर हैं और इसके साथ ही आश्वस्त हैं कि समस्त बाजारों में सुधार की मांग से विकास के अधिक अवसर पैदा होंगे।’’

महिंद्रा लाॅजिस्टिक्स के बारे में

महिंद्रा लाॅजिस्टिक्स लिमिटेड (एमएलएल) एक इंटीग्रेटेड थर्ड पार्टी लाॅजिस्टिक्स (3पीएल) समाधान प्रदाता कंपनी है, जिसे सप्लाई चेन मैनेजमेंट और पीपल ट्रांसपोर्ट साॅल्यूशंस में विशेषज्ञता हासिल है। एक दशक से भी पहले स्थापित एमएलएल आज 400 से अधिक काॅर्पोरेट ग्राहकों को सेवाएं दे रही है; एमएलएल के ग्राहकों में विभिन्न उद्योग शामिल हैं जैसे आॅटोमोबाइल, इंजीनियरिंग, कंज्यूमर गुड्स और ई-काॅमर्स। कंपनी एक ‘‘एसेट लाइट‘‘ बिजनैस मॉडल का अनुसरण करती है, जो आपूर्ति श्रृंखला और लोगों के परिवहन संचालन के क्षेत्र में अनुकूलित और प्रौद्योगिकी सक्षम समाधान प्रदान करती है। एमएलएल महिंद्रा ग्रुप के मोबिलिटी सर्विसेज सेक्टर का हिस्सा है।

अधिक जानकारी के लिए विजिट करें- www.mahindralogistics.com

 

महिंद्रा मोबिलिटी सर्विसेज सेक्टर के बारे में

महिंद्रा की मोबिलिटी सर्विसेज सेक्टर (एमएसएस) में कई व्यवसाय शामिल हैं जो देशभर में लोगों और वस्तुओं के कुशल आवागमन के लिए इनोवेटिव और टैक्नोलाॅजी आधारित समाधान प्रदान करते हैं। इसके अलावा, महिंद्रा मोबिलिटी सर्विसेज सेक्टर प्रौद्योगिकी से संचालित होने वाली मोबिलिटी कंपनियों में महिंद्रा समूह द्वारा भविष्य में किए जाने वाले निवेश के लिए प्लेटफॉर्म और ग्रोथ ड्राइवर भी है। इसमें फ्यूचर ऑफ मोबिलिटी के सह-निर्माण का विजन भी है।

इस सेक्टर में महिंद्रा लॉजिस्टिक्स शामिल है, जो आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन और उद्यम गतिशीलता में विशेषज्ञता रखने वाले भारत के सबसे बड़े 3पीएल समाधान प्रदाताओं में से एक है, साथ ही भारत की प्रमुख पूर्व स्वामित्व वाला संगठित कार व्यवसाय जिसमें महिंद्रा फस्र्ट चॉइस व्हील्स, कार और बाइक और मल्टी-ब्रांड कार वर्कशाॅप की भारत की सबसे बड़ी श्रृंखला महिंद्रा फस्र्ट चॉइस सर्विसेज शामिल हैं।

एमएसएस अपने अन्य व्यवसायों के साथ मोबिलिटी समाधानों की दुनिया में भी अग्रणी है, जिसमें शेयर्ड मोबिलिटी में एक जाना-पहचाना ब्रांड मेरू, ऑनलाइन माल परिवहन मार्केटप्लेस पोर्टर, भारत की अग्रणी सेल्फ-ड्राइव कार रेंटल कंपनी जूमकार और आॅल-इलेक्ट्रिक कॉर्पोरेट मोबिलिटी प्लेटफाॅर्म ग्लाइड शामिल है।

महिंद्रा के बारे में

महिंद्रा ग्रुप 20.7 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कंपनियों का फेडरेशन है जो लोगों को आवागमन के नए समाधान, ग्रामीण समृद्धि को बढ़ावा, शहरी जीवन के विस्तार, नए व्यवसायों का पोषण करने और समुदायों को बढ़ावा देने में सक्षम बनाता है। उपयोगी वाहनों, सूचना प्रौद्योगिकी, वित्तीय सेवाओं और वैकेशन के मामले में इसकी स्थिति एक नेतृत्वकारी की रही है और उत्पादों की संख्या के आधार पर यह दुनिया की सबसे बड़ी ट्रैक्टर कंपनी है। महिंद्रा, कृषि व्यवसाय, खाद, वाणिज्यिक वाहनों, परामर्श सेवाओं, ऊर्जा, औद्योगिक उपकरण, रसद, रियल एस्टेट, स्टील, एयरोस्पेस, डिफेंस और टू-व्हीलर में अपनी मजबूत उपस्थिति का भी आनंद उठाता है। भारत में मुख्यालय वाला महिंद्रा 100 देशों के 2,00,000 से अधिक लोगों को रोजगार देता है।

No comments:

Post a Comment

actyv.ai ने एमएसएमई को सप्लाई चेन फाइनेंस से जुड़े ऑफर्स के लिए एक्सिस बैंक के साथ साझेदारी की

  मुंबई/ बेंगलुरु, 01दिसंबर, 2022- एआई-पावर्ड एंटरप्राइज एसएएएस प्लेटफॉर्म actyv.ai   ने आज देश में निजी क्षेत्र के तीसरे सबसे बड़े बैंक, एक्...