Friday, January 29, 2021

स्नैपडील पर हिंदी और तमिल सबसे ज़्यादा इस्तेमाल की जाने वाली भाषाएं

जयपुर 29 जनवरी 2021 – भारत के अग्रणी वैल्यू-फोकस्ड ई-काॅमर्स मार्केटप्लेस स्नैपडील ने आज बताया कि मौजूदा उपयोगकर्ताओं, खासतौर पर पहली बार खरीददारी करने वाले उपयोगकर्ताओं से मिली प्रतिक्रिया को देखते हुए यह अपने स्थानीय भाषा इंटरफेस को और अधिक बढ़ावा दे रहा है। पिछले चार महीनों में जुटाए गए आंकड़े दर्शाते हैं कि तकरीबन 35 फीसदी उपयोगकर्ता पहले से प्लेटफाॅर्म पर उपलब्ध स्थानीय भाषा विकल्पों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

पिछले साल सितम्बर में लाॅन्च किया गया स्नैपडील ऐप और एम-साईट वर्तमान में कई स्थानीय भाषाओं जैसे हिंदी, तमिल, कन्नड, तेलुगु, गुजराती, पंजाबी और मराठी में उपलब्ध है। स्थानीय भाषा आधारित इंटरफेस की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए अब बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं तक इसका पैमाना बढ़ाया जा रहा है।
अंग्रेज़ी के बाद, हिंदी सबसे लोकप्रिय भाषा है, इसके बाद तमिल का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है। गुजराती इंटरफेस का उपयोग भी तेज़ी से बढ़ रहा है। स्थानीय भाषा टेक को स्नैपडील द्वारा बड़े पैमाने पर इन-हाउस इंटरफेस के रूप में शामिल किया जा रहा है।
चेन्नई, कोयम्बटूर, मदुराई, सालेम, तिरूचिरापल्ली और वैल्लोर के खरीददार तो तमिल भाषा का इस्तेमाल करते ही हैं, वहीं कर्नाटक, केरल, दिल्ली, पुणे और मुंबई में भी प्लेटफाॅर्म पर ब्राउज़िंग के दौरान तमिल इंटरफेस का व्यापक उपयोग किया जाता है। हिंदी भाषा का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, दिल्ली-एनसीआर और बिहार में किया जाता है।
प्लेटफाॅर्म पर स्थानीय भाषा इंटरफेस को शामिल करने से उपयोगकर्ताओं की सक्रियता बढ़ी है। औसतन, स्थानीय भाषा में ब्राउज़ करने वाले उपयोगकर्ता प्लेटफाॅर्म पर 20 फीसदी ज़्यादा समय बिताते हैं, और वे ज़्यादा समय तक प्लेटफाॅर्म पर प्रोडक्ट वीडियोज़, विभिन्न कंटेस्ट और गेमिंग विकल्पों का उपयोग करते हैं।
स्थानीय भाषा इंटरफेस की दिशा में किए गए प्रयासों से उत्साहित स्नैपडील वाॅइस-असिस्टेड शाॅपिंग पर भी प्रयोग कर रहा है, जिससे उपयोगकर्ता विभिन्न स्थानीय भाषाओं में सवाल पूछ सकेंगे। उन्हें विभिन्न भाषाओं में पहले से रिकाॅर्ड किए गए इंटेलीजेन्ट सलेक्शन द्वारा गाईड किया जाएगा जो उन्हें कई अन्य तरीकों से मदद करेगा जैसे कैसे सर्च करें, कैसे कार्ट में ऐड करें, इनपुट, भुगतान आदि पर वाॅइस प्राॅम्प्ट के ज़रिए सहायता प्रदान की जाएगी। यह फीचर वर्तमान में बीटा स्टेज में उपलब्ध है।

‘‘तकनीक की दिशा में किए गए हमारे ज़्यादातर प्रयास नए उपयोगर्ताओं को बेजोड़ अनुभव प्रदान करते हैं। अपनी खुद की भाषा में प्लेटफाॅर्म का इस्तेमाल करने से खरीददार के लिए खरीददारी आसान एवं मज़ेदार हो जाती है, खासतौर पर उन लोगों के लिए जो आॅनलाईन खरीददारी की शुरूआत कर रहे हैं।’’ स्नैपडील के प्रवक्ता ने बताया।’’

स्नैपडील के बारे मे
स्नैपडील भारत का सबसे बड़ा वैल्यू-फोकस्ड ई-काॅमर्स मार्केटप्लेस है। जिसके 500,000 से अधिक पंजीकृत विक्रेता हैं और इस प्लेटफाॅर्म पर और 220 मिलियन से अधिक लिस्टिंग्स हैं। स्नैपडील, खासतौर पर दूसरे और तीसरे स्तर के शहरों मंे भारत के ई-काॅमर्स सेक्टर के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। स्नैपडील बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं तक उचित कीमत के उत्पाद पहुंचाने के लिए ब्राण्डेड उत्पादों एवं शहरी उपभोक्ताओं के दायरे से बाहर जाकर ई-कामर्स के विस्तार के लिए प्रयासरत है।

No comments:

Post a Comment

वी बिज़नेस ने एमएमएसई की डिजिटल यात्रा को आसान बनाने के लिए लॉन्च किया ‘रैडी फॉर नेक्स्ट’

मुंबई, 27 जून, 2022ः महामारी के चलते कारोबार पर पड़े प्रभावों, बहुत अधिक लिक्विडिटी और अन्य बदलावों के चलते एमएसएमई संवेदनशील हो गए हैं। इन्ह...