Saturday, January 9, 2021

‘हेल्थ नेक्स्ट 2021’ – ग्लोबल हेल्थ एंड इनोवेशन कॉन्फ्रेंस का आयोजन 11 और 12- आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी

जयपुर, 09 जनवरी 2021:  नए साल में, वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के जरिए कोरोना से निपटने के लिए हेल्थकेयर सेक्टर में बुनियादी सवालों और चुनौतियों को दूर करने के लिए आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी की नई मुहिम – ‘हेल्थ नेक्स्ट 2021’ – ग्लोबल हेल्थ एंड इनोवेशन कॉन्फ्रेंस का आयोजन 11 और 12 जनवरी को करने जा रहा हैं।

भारत, कनाडा, अमेरिका और जर्मनी के हेल्थकेयर ऑर्गनाइजेशन, इंस्टीट्यूशंस और स्टार्ट-अप्स के साथ 1000 से अधिक दिग्गजों की भागीदारी देखी जाएगी। हैल्थ नैक्स्ट 2021-ग्लोबल हैल्थ एंड इनोवेषन कॉन्फ्रेंस  (जीएचआईसी), अपने व्यवसायिक प्रस्तावों को प्रस्तुत करने के साथ-साथ पोस्टर प्रेजेंटेषन भी प्रस्तुत करेगा। उद्योग जगत के 30 से अधिक प्रमुख विषेषज्ञ वक्ता जीएचआईसी में भाग लेंगे जिसके दुनिया भर में 1000 से अधिक प्रतिभागी गवाह रहेंगे।

कॉन्फ्रेंस में कोविड -19 के बाद नए हेल्थकेयर परिदृश्य में ड्राइविंग इनोवेशन पर अपने विचारों को साझा करेंगे। साथ में, हेल्थकेयर के लिए एक स्थायी मॉडल का निर्माण और आईओटी हेल्थ इकोसिस्टम पर चर्चा होगी। इसी बीच हर रोगी के लिए व्यक्तिगत स्वास्थ्य सेवा और अस्पतालों से परे स्वास्थ्य सेवा को कैसे आगे बढ़ाया जाए जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर भी कॉन्फ्रेंस में चर्चा की जाएगी।

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के चेयरपर्सन डॉ. एस डी गुप्ता कहते हैं, “आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी का नया अभियान, ‘हेल्थ नेक्स्ट 2021’ – ग्लोबल हेल्थ एंड इनोवेशन कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हेल्थकेयर और हेल्थटेक बिरादरी के साथ स्टार्ट-अप समुदाय को एक साथ लाने की एक पहल है, जिसमें कोरोना के बाद आई हेल्थकेयर क्षेत्र की चुनौतियों को शामिल किया गया हैं। महामारी ने समय से पहले स्वास्थ्य सेवा उद्योग को कम से कम 5 साल आगे बढ़ा दिया है, यही वजह है कि हम देखते हैं कि प्रौद्योगिकी अब इस बदलाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। अस्पतालों और स्वास्थ्य देखभाल संगठनों के प्रशासन और रोगी देखभाल के संदर्भ में इंटरनेट ऑफ थिंग्स बहुत अधिक लाभ प्राप्त कर रहा है।”

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के प्रेसीडेंट (कार्यवाहक), डॉ. पी. आर. सोडानी ने कहा हैं, ” हैल्थ नैक्स्ट 2021-ग्लोबल हैल्थ एंड इनोवेषन कॉन्फ्रेंस, आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी द्वारा शुरू की गई एक पहल है जिसमें महामारी के बाद चुनौतियों एवं परिवर्तनों पर बोलने के लिए समस्त स्वास्थ्य सेवा एवं हैल्थ-टेक बिरादरी को नये छोटे उद्यमियों के साथ एक छत के नीचे आमंत्रित किया गया है। हेल्थकेयर के लिए ग्लोबल हब के रूप में जानी जाने वाली आईआईएचएमआर  यूनिवर्सिटी की नई मुहिम ‘हेल्थ नेक्स्ट 2021’ – ग्लोबल हेल्थ एंड इनोवेशन कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन की घोषणा करते हुए खुश हैं। इस कॉन्फ्रेंस में चेंजमेकर्स, सीईओ, पॉलिसी मेकर्स और हेल्थकेयर इंडस्ट्री के महत्वपूर्ण लोगों की भागीदारी देखी जाएगी। इस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से, यह उम्मीद की जाती है कि वैश्विक स्वास्थ्य सेवा और स्टार्ट-अप समुदाय स्वास्थ्य सेवा उद्योग में बदलाव पर अपने विचार साझा करने के लिए एक बड़े मंच के रूप में उभरेंगे।”

डॉ. शीनू जैन, एसोसिएट प्रोफेसर, मार्केटिंग एंड चेयर, सेंन्टर फॉर इनोवेषन, इनक्यूबेषन एंड आन्तरप्रिनियोरषिप (सीआईआईई), आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने कहा कि, “प्रौद्योयोगिकी की दुनिया में कदम बढ़ाने होंगे जो कि हैल्थकेयर को मौलिक रूप से  बदल रही है। एआई एवं डिजीटल ट्विनिंग की नवीनतम तकनीकों से लेकर क्लीनिकल ट्रायल, कॉन्टेक्ट्स ट्रेसिंग एवं लक्षणों पर नज़र रखने को मौलिक रूप से बदलने के लिए यह प्रौद्योयोकी मरीजों, प्रदाताओं और समग्र सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए हैल्थकेयर की सबसे बड़ी चुनौतियो का समाधान कर रही हैं। प्रमुख विषेषज्ञों एवं फ्रंट लाइन इनोवेटर्स को सुने जो कि अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकी पर सबसे बड़ा प्रभाव डालती हैं। प्रसिद्ध वक्ताओं की मंडली दुनिया भर से इन दो दिनों के लिए प्रासंगिक मुद्दों पर विचार-विमर्ष करेंगे। आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने हमेषा इस तरह की पहल के लिए आगे रहती है, और इस वर्ष हमारा पूरा ध्यान स्वास्थ्य देखभाल, स्वास्थ्य तकनीक, स्टार्टअप इकोसिस्टम के निर्माण एवं पोषण पर रहेगा।“

‘हेल्थ नेक्स्ट 2021’ – ग्लोबल हेल्थ एंड इनोवेशन कॉन्फ्रेंस (जीएचआईसी) में फार्मेसी, दवा दोस्त, मेडकॉर्ड्स,डॉक्यूटी, बायर, जर्मनी, एस्ट्राजेनेका , बायोफर्मासिटिकल आर एंड डी, गेथर्सबर्ग, यूएसए, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन, अपोलो अस्पताल जैसे संगठनों की भागीदारी होंगे। साथ में, मेडिकवर हॉस्पिटल्स, भारत, स्टार्टअप ओएसिस, विवो हेल्थ, स्टेन प्लस- रेड एम्बुलेंस, एआई हाइवे इंक, एमिटी सेंटर फॉर एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट, एमिटी यूनिवर्सिटी, टीआईई ग्लोबल, ई 4 आईंम्पैक्ट फाउंडेशन, आईक्योर, एफएमएस उदयपुर, आईआईएम अहमदाबाद जैसे संगठनों की भागीदारी होगी। बता दें कि हेल्थकेयर क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ उच्च शिक्षा के लिए विख्यात, आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने हाल ही में डॉ. एसडी गुप्ता स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ का शुभारंभ किया।

No comments:

Post a Comment

बीते कल में आज की परछाई

बीते हुए कल में आज भी झांक कर देखता हूं तो बाबूजी की स्मृतियां और उनके साथ बीते अनेकों और अनगिनत पल आज भी मुझे अपने आस-पास घिरे जीवन से लड़ने...