Saturday, January 30, 2021

पिडिलाइट इंडस्ट्रीज ने पिछले वर्ष की समान तिमाही की तुलना में बिक्री में 20 प्रतिशत की शुद्ध वृद्धि दर्ज की

जयपुर 30 जनवरी 2021 –  देश में एड्हेसिव, सीलेंट और निर्माण रसायन की अग्रणी निर्माता कंपनी पिडिलाइट इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने आज 31 दिसंबर, 2020 को समाप्त तिमाही और नौ महीने के अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा की।

इस तिमाही के दौरान उपभोक्ता और बाजार (सीएंडबी) सेगमेंट में मात्रा और मूल्य के लिहाज से 20 प्रतिशत से अधिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है। ग्रामीण क्षेत्रों में मांग में निरंतर तेजी और मेट्रो सहित सभी शहरी इलाकों में मजबूत रिकवरी के कारण सभी वर्टिकल में जोरदार वृद्धि दर्ज की गई। औद्योगिक गतिविधि में पुनरुत्थान और बहाली की स्थिति को देखते हुए बिजनेस टू बिजनेस (बी 2 बी) सेगमेंट में भी अच्छी वृद्धि दर्ज की गई है।

विदेशी सहायक कंपनियों ने भी जोरदार प्रदर्शन किया है, जिससे दोहरे अंकों की निरंतर राजस्व वृद्धि के साथ-साथ आय में मजबूत वृद्धि हुई है।

एक तरफ सीएंडबी सेगमेंट में घरेलू सहायक कंपनियों ने भी विकास की बेहतर गति को बनाए रखा है, तो दूसरी तरफ बी 2 बी सेगमेंट में सहायक कंपनियों ने तिमाही के आखिरी हिस्से में रिकवरी के संकेत दिए हैं।

वित्तीय प्रदर्शन

समेकित प्रदर्शन

– पिछले वर्ष की इसी तिमाही की तुलना में शुद्ध बिक्री 2,290 करोड़ रुपये पर, 20 प्रतिशत वृद्धि (16 प्रतिशत पीएपीएल को छोड़कर)। नौ महीनों के लिए शुद्ध बिक्री 5,021 करोड़ रुपये रही और पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 12 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

 

– पिछले वर्ष की इसी तिमाही की तुलना में गैर-परिचालन आय से पहले ईबीआईटीडीए 641 करोड़ रुपये पर, 38 प्रतिशत की बढ़ोतरी (33 प्रतिशत पीएपीएल को छोड़कर)। कम इनपुट लागत और ए एंड एसपी खर्च के कारण। नौ महीनों की अवधि के लिए ईबीआईटीडीए 1,223 करोड़ रुपये पर, पिछले साल की इसी अवधि की तुलना मंे 4 प्रतिशत की गिरावट।

– पिछले साल की समान तिमाही की तुलना में कर और असाधारण वस्तुओं के साथ प्रोफिट बिफोर टैक्स (पीबीटी) 601 करोड़ रुपये पर, 32 प्रतिशत की वृद्धि (27 प्रतिशत पीएपीएल को छोड़कर)। 9 माह की अवधि में पीबीटी 1,111 करोड़ रुपये, पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 12 प्रतिशत गिरावट।

– पिछले वर्ष की इसी तिमाही की तुलना में प्रोफिट आफ्टर टैक्स (पीएटी) 446 करोड़ रुपये पर, 29 प्रतिशत की वृद्धि (पीएपीएल 23 प्रतिशत छोड़कर)। 9 माह की अवधि के लिए पीएटी 819 करोड़ रुपये पर, पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 15 प्रतिशत की गिरावट, कारण- कॉर्पोरेट टैक्स दर में कमी के साथ पूर्व वर्ष में टैक्स रिवर्सल (लाइक टू लाइक आधार पर पीएटी में 13 प्रतिशत की गिरावट आई है)।

The Company acquired 100% stake in Pidilite Adhesives Pvt Ltd (PAPL) [Formerly known as Huntsman Advanced Materials Solutions Private Limited (HAMSPL)] on 3rd November 2020.

स्टैंडअलोन प्रदर्शन

– पिछले वर्ष की समान बिक्री मात्रा के साथ शुद्ध बिक्री 1,948 करोड़ रुपये की, 18 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जो कि पिछले वर्ष की समान बिक्री मात्रा और 19 प्रतिशत की मिश्रित वृद्धि के साथ थी। सेल्स वाॅल्यूम में 22 प्रतिशत की वृद्धि और सीएंडबी मिश्रण के कारण यह संभव हुआ, साथ ही सेल्स वाॅल्यूम में 12 प्रतिशत की वृद्धि और बी2बी मिश्रण के कारण भी। 9 महीनों के लिए शुद्ध बिक्री 4,355 करोड़ रुपये रही, पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में इसमें 13 प्रतिशत की गिरावट रही।

– गैर-परिचालन आय से पहले ईबीआईटीडीए 572 करोड़ रुपये पर, पिछले साल की तुलना में 33 प्रतिशत बढ़ोतरी, कम आय इनपुट लागत और ए एंड एसपी खर्च के कारण। 9 माह की अवधि के लिए ईबीआईटीडीए 1,142 करोड़ रुपये पर, पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 5 फीसदी की गिरावट।

– पिछले साल की समान तिमाही की तुलना में कर और असाधारण वस्तुओं के साथ प्रोफिट बिफोर टैक्स (पीबीटी) 549 करोड़ रुपये, 27 प्रतिशत की बढ़ोतरी। 9 माह की अवधि के लिए पीबीटी 1,081 करोड़ रुपये पर, पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 12 प्रतिशत की गिरावट।

– पिछले वर्ष की इसी तिमाही की तुलना में प्रोफिट आफ्टर टैक्स (पीएटी) 409 करोड़ रुपये पर, 24 प्रतिशत की वृद्धि। 9 माह की अवधि के लिए पीएटी 805 करोड़ रुपए पर, पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 15 प्रतिशत की गिरावट, कारण- कॉर्पोरेट टैक्स दर में कमी के साथ पूर्व वर्ष में टैक्स रिवर्सल (लाइक टू लाइक आधार पर पीएटी में 12 प्रतिशत की गिरावट आई है)।

तिमाही की परफाॅर्मेंस पर टिप्पणी करते हुए, पिडिलाइट इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री भरत पुरी ने कहा-

‘‘इस तिमाही में सभी व्यवसायों और भौगोलिक क्षेत्रों में व्यापक आधार पर विकास हुआ। एक तरफ उपभोक्ता और बाजार के कारोबार में 20 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई, बी 2 बी सेगमेंट ने भी दोहरे अंकों में वृद्धि के साथ वापसी की है। इनपुट लागत और कम विवेकाधीन खर्चों के लाभों के कारण लाभप्रदता अधिक थी। हालांकि, इनपुट लागत में महत्वपूर्ण बढ़ोतरी के कारण आने वाली तिमाहियों में मार्जिन दबाव में रहेगा। हमारा ध्यान अपने ब्रांड, बिक्री और वितरण के साथ-साथ उपभोक्ता के लिए उपयोगी और महत्वपूर्ण इनोवेशन में निवेश के माध्यम से वॉल्यूम विकास को बढ़ावा देने पर होगा। इसी गति से आगे बढ़ते हुए हम मांग से संबंधित मजबूत स्थितियों को जारी रखने के प्रति सतर्क हैं।’’

पिडिलाइट के बारे में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज लिमिटेड एड्हेसिव और सीलेंट, निर्माण रसायन, कला और शिल्प उत्पादों, डीआईवाई (डू-इंट-यॉरसेल्फ) प्रॉडक्ट और पॉलिमर इमल्शन की एक अग्रणी निर्माता है। हमारे उत्पादों की शृंखला में पेंट रसायन, मोटर वाहन रसायन, कला सामग्री और स्टेशनरी, कपड़े की देखभाल, रखरखाव रसायन, इंडस्ट्री एड्हेसिव, इंडस्ट्री रेजिन और कार्बनिक पिगमेंट्स एंड प्रिपरेशन शामिल हैं। अधिकांश उत्पादों को मजबूत इन-हाउस आर एंड डी के माध्यम से विकसित किया गया है। हमारा ब्रांड नाम फेविकोल भारत में लाखों लोगों के लिए एड्हेसिव का पर्याय बन गया है और देश में सबसे भरोसेमंद ब्रांडों में से एक है। हमारे कुछ अन्य प्रमुख ब्रांड एम-सील, फेविक्विक, फेविस्टिक, रॉफ, डॉ. फिक्सिट, मोटोमैक्स, फेविक्रिल और हाॅबी आइडियाज हैं।

No comments:

Post a Comment

वी गोल्डन वीक के दौरान वी के यूज़र्स को मिलेगा सोनी एंटरटेनमेन्ट टीवी के कौन बनेगा करोड़पति-सीज़न 14 की हॉटसीट तक पहुंचने का सुनहरा मौका

मुंबई, 01 दिसंबर , 2022; जाने-माने टेलीकॉम ब्राण्ड वी अपने उपभोक्ताओं के लिए सोनी एंटरटेनमेन्ट टेलीविज़न के प्रतिष्ठित ‘ज्ञान आधारित’ गेम शो,...