Sunday, November 15, 2020

राजस्थान कोचिंग इंस्टिट्यूट एसोसिएशन ने भी दिया शहीद स्मारक पर चल रहे धरने को समर्थन


ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ के आह्वान पर राजस्थान कोचिंग इंस्टिट्यूट एसोसिएशन ने भी अपना समर्थन दिया है साथ ही एसोसिएशन के सदस्य कोचिंग संस्थाओं का आह्वान किया है कि 17 तारीख से शहीद स्मारक पर हो रहे धरने का समर्थन करते हुए फीस के मुद्दे पर स्कूल संचालकों की ओर से लड़ी जा रही लड़ाई को ताकत प्रदान करें तथा कोचिंग एवं शिक्षण संस्थाओं को शीघ्र खोलने की लड़ाई को भी साथ में मिलकर लड़े. प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेंद्र गौरसी ने बताया कि ऑल राजस्थान कोचिंग इंस्टीट्यूट महासंघ के कोचिंग संस्थानों तथा शिक्षण संस्थानों को खुलवाने के आंदोलन में एसोसिएशन पूर्ण रूप से समर्थन करते हुए अपने सदस्य संस्थाओं को साथ चलने का आदेश देती है

 

 


महासंघ के कोचिंग संस्थाओं तथा शिक्षण संस्थानों को खुलवाने की मांग हुई तेज

 


------फोरम ऑफ प्राइवेट स्कूल राजस्थान के स्कूल फीस के मुद्दे पर चल रहे आंदोलन का समर्थन किया ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ ने सभी कोचिंग संचालकों तथा कोचिंग संस्थानों में कार्य करने वाले शिक्षकों से समर्थन का आह्वान किया

फोरम ऑफ प्राइवेट स्कूल राजस्थान  स्कूल फीस मुद्दे पर चल रहे आंदोलन का समर्थन करते हुए ओल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ ने राज्य भर के कोचिंग संस्थानों के संचालकों शिक्षकों तथा कर्मचारियों से इस आंदोलन का समर्थन करने की अपील की है. ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ के प्रदेश संयोजक अनीष कुमार ने अपने समर्थकों के साथ आज शहीद स्मारक में चल रहे फोरम के धरना प्रदर्शन में समर्थन पत्र देकर दीपावली के बाद शिक्षण संस्थाओं तथा कोचिंग संस्थानों को खुलवाने के लिए ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ के बैनर तले शुरू हो रहे आंदोलन में  फोरम ऑफ प्राइवेट स्कूल राजस्थान का समर्थन मांगा

समर्थन पत्र में  राजस्थान सरकार से प्राइवेट स्कूल संचालकों तथा कोचिंग संचालकों से बात करने के लिए कैबिनेट स्तर  पर अथवा मुख्य सचिव स्तर  पर प्रदर्शनकारियों से वार्ता कर समाधान निकालने की मांग की गई है ऐसा नहीं करने पर दीपावली के बाद राजस्थान भर के सभी कोचिंग संस्थानों के साथ मिलकर बड़ा आंदोलन करने की तैयारी शुरू कर दी गई है, ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ के प्रदेश संयोजक अनीष कुमार ने राजस्थान सरकार को चेताया है कि समय रहते स्कूल तथा कोचिंग संचालकों की मांग को मानते हुए आदेश दिए जाएं वरना समस्त प्राइवेट स्कूल संचालक कोचिंग संचालक स्कूल कॉलेजों में तथा कोचिंग संस्थानों में कार्यरत शिक्षक तथा कर्मचारियों के साथ राज्य के लाखों प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी में दूरस्थ गांव में ऑनलाइन व्यवस्था नहीं होने के कारण व्यतीत बेरोजगार युवाओं के साथ ऐतिहासिक आंदोलन किया जाएगा, ज्ञातव्य रहे कि इससे पूर्व भी यूपीएससी तथा बेरोजगार दिवस के रूप में राजस्थान से शुरू हुए आंदोलन ने करोड़ों युवाओं को जोड़कर सोशल मीडिया में विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए केंद्र तथा राज्य सरकारों को झुकने पर मजबूर कर दिया था ऐसे में निजी शिक्षण संस्थाओं के साथ में ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ के आ जाने से अब इनकी मांगों को मानने के अलावा सरकार के पास कोई चारा नहीं रह गया है. अनीष कुमार ने बताया कि ऑल कोचिंग इंस्टिट्यूट महासंघ ने सरकार को ज्ञापन देकर दीपावली के बाद शिक्षण तथा कोचिंग संस्थानों को खोलने की मांग किया हुआ है ऐसे में शिक्षण संस्थाओं के संचालकों की मांगों का समर्थन करते हुए हम अभी से राजस्थान के शिक्षण संस्थानों ,स्कूल ,!कॉलेज तथा कोचिंग संस्थानों को एकजुट करने के प्रयास में जुटे हुए हैं अगर दीपावली छुट्टियों के समाप्त होने के बाद शिक्षण संस्थाओं तथा कोचिंग संस्थाओं को खोलने के आदेश नहीं आते हैं तो बेरोजगारी के कारण बर्बादी के कगार पर खड़े शिक्षकों तथा इन संस्थाओं में कार्य करने वाले लाखों कर्मचारियों एवं दूर-दराज गांवों में ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था के सुचारू नहीं होने के कारण शिक्षा से वंचित हो रहे लाखों छात्रों तथा बेरोजगार युवाओं को साथ में लेकर उग्र आंदोलन की रणनीति पर महासंघ कार्य कर रहा है

 



No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...