Tuesday, October 6, 2020

आईआईएचएमआर के 36वें स्थापना दिवस पर “एसडी गुप्ता-स्कूल ऑफ पब्लिक हैल्थ”शुरू करने की घोषणा


जयपुर। इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ हैल्थ मैनेजमेंट रिसर्च ने अपने 36वें स्थापना दिवस पर संस्थान के संस्थापक डॉ. अशोक अग्रवाल ने आईआईएचएमआर विश्वविद्यालय में “एसडी गुप्ता-स्कूल ऑफ पब्लिक हैल्थ”शुरू करने की घोषणा की। डॉ. एस. डी. गुप्ता इस संस्थान के ट्रस्टी सैक्रेटरी हैं और आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के चेयरपर्सन भी हैं। डॉ. एस. डी. गुप्ता जाने-माने पब्लिक हैल्थ स्पैश्लिस्ट हैं।

डॉ. अग्रवाल ने आईआईएचएमआर के 36वें स्थापना दिवस के अवसर पर संस्थान के सभी छात्र-छात्राओं, अधिकारियों एवं फैकल्टिस् को संबाधित करते हुए कहा कि, “मैंने हमारी पिछली बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट की बैठक में सभी सदस्यों के समक्ष स्कूल ऑफ पब्लिक हैल्थ शुरू करने का प्रस्ताव रखा और मुझे सभी सदस्यों द्वारा उत्साह पूर्वक स्वीकृती मिली। आज इस शुभ अवसर पर आप सभी के समक्ष यह घोषणा करते हुए बहुत ही प्रसन्नता हो रही है कि हम अपनी संस्था में नये सत्र से “एसडी गुप्ता-स्कूल ऑफ पब्लिक हैल्थ” की शुरूआत करने जा रहे हैं। आईआईएचएमआर को अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहूँचाने में प्रबल आधार हमारी फैकल्टि मैबंर्स रही है। यह देश और दुनिया की पहली संस्थान है जो कि शोध में विश्वास करती है और उस ही शोध के आधार पर विद्यार्थियों को शिक्षित करती है। मुझे गर्व है कि हमारी संस्थान द्वारा 800 से अधिक रिसर्च पूर्ण की हैं और हमारी संस्थान के विद्यार्थियों द्वारा 3000 से अधिक डेजऱ्टेशनस् की गई हैं जोकि एक महत्वपूर्ण योगदान है।”

डॉ. एस. डी. गुप्ता, ट्रस्टी सैक्रेटरी, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ हैल्थ मैनेजमेंट रिसर्च एवं चेयरपर्सन, आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने कहा कि, “आईआईएचएमआर का मुख्य उद्देश्य सदैव बड़ा सोचो बड़ा करो रहा है। हमारी शोध पर प्राथमिकता रही है जिसमें हम आज भी प्राथमिक तौर पर जोर देते हैं। संस्थान ने भारत सरकार एवं अन्य राज्य सरकारों के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रर्मों पर कार्यक्रमों के प्रबन्धन एवं संपादन के लिए शोध कार्य किये हैं, जैसेः एचआईवी कन्ट्रोल प्रोग्राम, इम्यूनाइज़ेशन प्रोग्राम, ब्लाइंडनेस कन्ट्रोल प्रोग्राम आदि। मुझे खुशी है कि हमारे फाउन्डर ट्रस्टी डॉ. अशोक अग्रवाल का सपना पूरा करने का अवसर मिला, जिसमें उनका स्वयं का बहुत बड़ा योगदान रहा है और इसके अतिरिक्त डॉ. रामेश्वर शर्मा, डॉ. जी. गिरधर, डॉ. उदय पारीक, डॉ. ऋीकेश मारू एवं श्री एम. एल. मेहता का मैं तहे दिल से आभार व्यक्त करता हूँ, जिन्होंने इस सपने को साकार करने में अपना महत्पूर्ण योगदान दिया।”

डॉ. पी. आर. सोडानी, प्रेसिडेंट (कार्यवाहक), आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने इस अवसर पर सभी का स्वागत करते हुए कहा कि, “इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ हैल्थ मैनेजमेंट रिसर्च की स्थापना 1984 में की गइ थी और आज हमने आईआईएचएमआर की स्थापना के 36 वर्ष पूरे किये हैं। हमने देश और दूनिया में हैल्थ मैनेजमेंट क्षेत्र में शोध एवं शिक्षा में ख्याति प्राप्त की है। आईआईएचएमआर की स्थापना के पूर्व यह किसी ने नहीं सोचा था कि देश में हैल्थकेयर मैनेजमेंट जैसी संस्स्थान की आवश्यकता है। पिछले 36 वर्षों में हमने यह जाना है कि इस क्षेत्र में ऐसी संस्थान की अत्यधिक आवश्यकता है। वर्तमान में कोविड महामरी ने यह साबित कर दिया है कि मैनेजमेंट ऑफ पब्लिक सर्विसेज़ और मैनेजमेंट ऑफ हैल्थकेयर सर्विसेज़ की अत्यधिक आवश्यकता है। आईआईएचएमआर देश की एक अग्रणी संस्थान है जो कि हैल्थ मैनेजमेंट के क्षेत्र में मानव संसाधन की पूर्ति करती आयी है और करती रहेगी।”

स्थापना दिवस के इस अवसर पर 10 मिनट का विडियो प्रस्तुत किया गया जिसमें संस्थान का इतिहास बताया गया। इस वर्चुअल समारोह में आईआईएचएमआर के छात्र-छात्राओं द्वारा कविताएं, संगीत एवं सांस्कृतिक प्रस्तुतियां पेश की गई। इस समारोह की समन्वयक आईआईएचएमआर की असिस्टेंट प्रोफेसर, वीना एन. सरकार रहीं। समारोह का अंत आईआईएचएमआर की एसोसिएट प्रोफेसर, डॉ. दीप्ति शर्मा द्वारा धन्यवाद भाषण से किया।

No comments:

Post a Comment

श्री कृष्ण बलराम मंदिर में नरसिंह चतुर्दशी महोत्सव मनाया गया

जयपुर  |  हरे कृष्ण मूवमेंट जयपुर के जगतपुरा स्थित श्रीकृष्ण बलराम मंदिर में नरसिंह चतुर्दशी महोत्सव मनाया गया। इस मौके पर मंदिर अध्यक्ष अमि...