Thursday, January 9, 2020

जवाहर कला केंद्र में गुरुनानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में दो दिवसीय कार्यक्रम

शबद गायन, पंजाबी नृत्यों और सूफी गायन में साकार होगी पंजाबी संस्कृति


जयपुर, 9 जनवरी। जवाहर कला केंद्र में गुरुनानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में  12 जनवरी (रविवार) से दो दिवसीय "हर सिमरन" कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसमें विभिन्न प्रस्तुतियों में पंजाबी संस्कृति साकार होगी। जेकेके महानिदेशक किरण सोनी गुप्ता ने बताया कि केंद्र के मध्यवर्ती में 12 जनवरी को शाम 6.30 बजे शबद गायन होगा। इसके बाद मनीष जोशी निर्देशित दास्तां गोई के रूप में नाटक  'सतनाम वाहे गुरु' की प्रस्तुति दी जाएगी। श्रीमती गुप्ता ने बताया कि कार्यक्रम के अंतर्गत 13 जनवरी को शाम 6.30 बजे पंजाबी लोक नृत्य होंगे। इसमें लोक कलाकार जिंदुआ और भांगड़ा की प्रस्तुति देंगे। इसके साथ ही माणिक अली पंजाबी सूफी गायन पेश करेंगे। इसके बाद पूरे हषोल्लास से 'लोहड़ी' का आयोजन होगा।उन्होंने बताया कि केंद्र की ओर से देश की गौरवशाली संस्कृति से सभी को अवगत कराने के उद्देश्य से ऐसे कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहे हैं। इसी कड़ी में प्रदेश के नागरिक पंजाबी संस्कृति से रू-ब-रू होंगे।


 


No comments:

Post a Comment

टाटा पावर ने भारत में ईवी-चार्जिंग के बुनियादी ढांचे को ऊर्जा प्रदान करने के लिए ह्युंदाई मोटर इंडिया के साथ की साझेदारी

राष्ट्रीय 17 मई 2022 : देश की एक सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी और ईवी चार्जिंग की बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने वाली अग्रणी कंपनी टाटा पावर ने...