Monday, December 30, 2019

रशियन कार्निवल के साथ होगा ये न्यू ईयर सेलिब्रेशन खास 

- मेरियट में स्थित क्लब रोडीज़ में होगा एरियल एक्ट का आकर्षण


जयपुर। रशियन कार्निवल, एरो एक्ट और एरियल डांस के साथ साल 2020 का स्वागत और भी खास रहेगा। जयपुर मेरियट में स्थित क्लब रोडीज़ में न्यू ईयर सेलिब्रेशन के तौर पर खास रशियन कार्निवल का आयोजन किया जा रहा है। जहां रशियन स्पेशल एरो एक्ट और एरियल डांस को काफी पसंद किया जायेगा। साथ ही बॉलीवुड सांग्स के साथ फ्यूज़न और रशियन डीजे अल्ट्रा वी की धुनों पर जयपुराइट्स थिरकेंगे। जयपुर क्लब रोडीज़ के डायरेक्टर रविंद्र सिंह राठौड़ ने बताया कि सभी से अलग हम इस साल जयपुर पार्टी लवर्स के लिए एक खास कार्निवल का आयोजन कर रहे है। जहां सिर्फ डांस और सांग्स ही नहीं बल्कि रशियन डांसर्स के द्वारा होने जा रहे खास एक्ट्स से लोगों के लिए ये बीते साल और आने वाले नए साल को यादगार बनाने की कोशिश की जाएगी।  


नव वर्ष की पूर्व संध्या पर पार्टी का आयोजन

शिवा शक्ति ग्रुप की ओर से 30 दिसंबर को राजापार्क स्थित लयोस्टिक कैफे में नव वर्ष की पूर्व संध्या पर पार्टी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की संयोजक और आयोजक अनुराधा सोनी ने बताया कि पार्टी में युवतियों और महिलाओं ने कई आकर्षक गेम खेलें और इंजॉय किया। विभिन्न प्रकार के गेम्स में विजेताओं को आकर्षक पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। पार्टी में तंबोला अंताक्षरी म्यूजिकल गेम आदि आयोजित हुए। कार्यक्रम में अपूर्वा, खुशबू, सीमा, पूनम, मनप्रीत, रीमा, जया, अपर्णा, अंशु आदि महिलाएं मौजूद थी।




Saturday, December 28, 2019

सब कुशल मंगल' की स्क्रिप्ट है बेहतरीन : अक्षय खन्ना

अक्षय खन्ना के फैन्स के लिए बेहद ख़ुशी की बात है कि जल्द ही उनकी‌ मनोरंजन से भरपूर फिल्म 'सब कुशल मंगल' बड़े पर्दे पर रिलीज़ होने जा रही है. हाल ही में अक्षय खन्ना इससे पहले  इत्तेफ़ाक, एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर और सेक्शन 375 में रोचक किरदारों में नज़र आए थे और सभी फ़िल्मों में उनके अभिनय की ख़ूब तारीफ़ भी हुई थी. अक्षय खन्ना अब पूरे परिवार के लिए बनी कॉमेडी फिल्म 'सब कुशल मंगल' में बाहुबली के एक ऐसे रोल में दिखाई देंगे, जिसे आपने पहले कभी नहीं देखा होगा. हाल ही में कई संजीदा किस्म की फ़िल्मों में उम्दा अभिनय करनेवाले अक्षय एक हल्की-फुल्की कॉमेडी फ़िल्म में मनोरंजक किस्म का रोल करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं. अक्षय के लिए यह फ़िल्म इसलिए भी ख़ास है क्योंकि इस फ़िल्म को बनाने में उन्होंने ख़ास भूमिका निभाई है. 'सब कुशल मंगल' की कहानी झारखंड में बेस्ड है, जो साल की सबसे ज्यादा हंसानेवाली फ़िल्म साबित होनेवाली है. इस फ़िल्म के किरदारों के बीच काफ़ी हल्के-फुल्के क्षण देखने को मिलेगा. सभी उम्र के दर्शकों को लुभाने के लिए इसमें ड्रामा, कॉमेडी और रोमांस का सही मिश्रण रखा गया है. अक्षय खन्ना पहले ही कह चुके हैं कि यह फिल्म बेहद अच्छे ढंग से लिखी गई फ़िल्म है और यह एक बेहद अच्छी कहानी है, जिसकी वजह से उन्होंने इस फिल्म से जुड़ने का फैसला किया. प्राची नितिन मनमोहन ने‌ कहा, "करण (फिल्म के निर्देशक करण विश्वनाथ कश्यप) ने स्क्रिप्ट के साथ अक्षय को अप्रोच किया था और उन्हें यह स्क्रिप्ट बेहद पसंद भी आई थी. इसके बाद अक्षय खन्ना ने इस फिल्म का प्रस्ताव मेरे पिता (नितिन मनमोहन) के सामने रखा. इस फिल्म का नरेशन सुनने के बाद हमने फौरन तय किया कि हमें ये  फिल्म बनानी है. इस फिल्म की कहानी पर अक्षय का विश्वास इतना गहरा था कि उन्होंने ने भी इस फिल्म के साथ प्रस्तुतकर्ता के तौर पर जुड़ने का फैसला लिया." अक्षय अपनी फिल्मों में अपने किरदारों को बख़ूबी जीने के लिए जाने जाते हैं. ऐसे में 'सब कुशल मंगल' में उत्तर भारत के एक स्थानीय बाहुबली के रोल में भी उन्होंने कमाल किया है. उन्होंने अपनी बाकी फिल्मों से एकदम अलहदा किस्म का‌ किरदार निभाया है, जिसे लेकर दर्शकों को खासा जोश है. उनके लुक से परे हर बार उनकी प्रतिभा ही फिल्म का हाईलाइट होती हैं. उल्लेखनीय है कि जिस अभिनेता ने हाल ही में सेक्शन 375 में एक तेज़तर्रार वकील का रोल किया था, वो अब एक छोटे से शहर के बाहुबली के अनोखे किरदार में नज़र आएगा. यकीनन उनका यह किरदार भी यादगार साबित होगा. इस फिल्म के ट्रेलर की ख़ूब वाहवाही हो रही है और ऐसे में दर्शकों में 'सब कुशल मंगल' देखने का खासा उत्साह देखा जा रहा है. इस फिल्म के जरिए डेब्यू करने जा रहे  प्रियांक शर्मा और रीवा किशन के साथ सतीश शाह, राकेश बेदी, सुप्रिया पाठक भी अहम किरदारों में नजर आएंगे. इस फिल्म का‌ निर्देशन करण विश्वनाथ कश्यप ने किया है. इस फिल्म को नितिन मनमोहन के वन-अप मैन एंटरटेनमेंट, अक्षय खन्ना और अभिषेक जगदीश द्बारा प्रस्तुत किया जाएगा. यह फिल्म 3 जनवरी,‌2020 को देशभर में रिलीज होगी.



जयपुर में "इंडिया फैशन कोट्यूर सीजन 2 का आज होगा आयोजन

29 दिसम्बर 2019 को जयपुर में एक भव्य फैशन शो का आयोजन किया गया है, जिसमें देश भर से आये हुए फैशन डिजाईनर्स अपने फैशनेबल कलेक्शन का जलवा बिखेरेंगे और दूसरी ओर ग्लैमरस मॉडल्स अपनी मोहक अदाओं के साथ रैंप वॉक करती नज़र आऐंगी। यह शो 'द फ़र्न एकोटेल होटल' में रविवार को दिनांक 29 दिसंबर शाम 6 बजे से प्रारम्भ होगा।  इस कार्यक्रम के आयोजक एडवोकेट ललित शर्मा और रिंकु सिंह ने बताया- बेस्ट परफॉर्मेन्स देने वालों के लिए विभिन्न कैटेगरीज में फैशन व लाइफस्टाइल अवार्ड भी दिए जाएंगे। आयोजकों ने कहा की ग्लैमर के साथ हम  सोशल कॉज भी साथ लेकर चल रहे हैं और इसलिए हमने शो की थीम प्लास्टिक मुक्त भारत रखी है जिसके अंतर्गत लोगों को प्लास्टिक ना यूज़ करने पर होने वाले पर्यावरण फायदों के बारे में बताया जाएगा।  यह फैशन शो नेक्स्ट जनरेशन डिजाइनर्स व मॉडल्स की यूनिक स्टाइल्स को प्रमोट करने के लिए एक बहुत बड़ा मंच है जिसमें देश भर के डिजाइनिंग इंस्टिट्यूट से फैशन स्टूडेंट्स अपने कलेक्शन को प्रस्तुत करेंगे।


 


5 Years of RIFF & 150 years of MAHATMA GANDHI की थीम पर होगा राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का छठा संस्करण

रिफ  2020 एवं नेशनल फिल्म अर्काइव ऑफ  इंडिया की ओर से 150 years of MAHATMA GANDHI विषय पर परिजात 2 गैलेरी, जवाहर कला केन्द्र, जयपुर में लगाई जायगी पोस्टर प्रदर्शनी  


जयपुर , 28 दिसंबर 2019  रिफ फिल्म क्लब द्वारा राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का छठा संस्करण 18 जनवरी  से 22 जनवरी 2020 को जवाहर कला केन्द्र एवं सिनेपॉलिस, वल्र्ड ट्रेड पार्क, जे एल एन मार्ग, जयपुर में 5 years of RIFF & 150 years of Mahatma Gandhi  थीम पर होगा।  मोहनदास करमचंद गांधी पर बॉलीवुड में कई एंगल से फिल्में की गई। जिसमें देश की स्वतंत्रता के लिए लड़े गए आंदोलनों को बखूबी दिखाया गया है। गांधी जी के सिद्धांतों ने पूरी दुनिया में लोगों को नागरिक अधिकारों एवं स्वतन्त्रता आन्दोलन के लिये प्रेरित किया। उन्होंने हर परिस्थिति में अहिंसा और सत्य का पालन किया और लोगों से भी इनका पालन करने के लिये कहा 150 ईयर्स ऑफ  महात्मा गांँधी के अंतर्गत उन फिल्मों पर प्रकाश डाला जायेगा जो बापू की जि़न्दगी पर आधारित हैं। राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में नेशनल फिल्म आर्काइव ऑफ  इंडिया की ओर से 150 years of Mahatma Gandhi विषय पर महात्मा गाँधी के जन्म के 150 वर्ष के उपलक्ष्य में साथ में रिफ  के पाँच साल के सफर पर प्रदर्शनी परीजात 2 गैलेरी, जवाहर कला केन्द्र, जयपुर में लगाई जायेगी।  रिफ फिल्म क्लब  एवं  राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म  फेस्टिवल    के संस्थापक सोमेन्द्र हर्ष ने बताया कि " रिफ का उद्घाटन समारोह 18 जनवरी, 2020 सांय 5 बजे ओपन थियेटर, जवाहर कला केन्द्र, जयपुर में आयोजित होगा एवं अंत में २२ जनवरी को अवॉर्ड समारोह का आयोजन ओपन थियेटर, जवाहर कला केन्द्र, जयपुर में किया जायेगा, जिसमें श्रेष्ठ फिल्मों, कलाकारों को सम्मानित किया जायेगा। फिल्म स्क्रीनिंग, सेमीनार, वर्कशॉप, टॉक शो, नॉलेज सीरिज का  आयोजन  सिनेपॉलिस, वल्र्ड ट्रेड पार्क, जे एल एन मार्ग, जयपुर  में  आयोजन होगा। " रिफ फिल्म क्लब की मैनेजिंग ट्रस्टी अंशु हर्ष ने बताया की पाँच दिवसीय आयोजन में फिल्म स्क्रीनिंग, सेमीनार, वर्कशॉप, टॉक शो, नॉलेज सीरिज एवं फिल्म प्रर्दशनी का आयोजन होगा। इस आयोजन में देश-विदेश के फिल्म फेस्टिवल में सम्मानित एवम प्रदशित हुई फीचर फिल्म, शार्ट फिल्म,  म्यूजिक वीडियो एल्बम , डाक्यूमेन्ट्री  फिल्म, ऐनिमशिन फिल्म एव रीजनल फिल्म की स्क्रीनिंग होगी जिसकी सबमिट करने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर, 2019 है।


 


 


 


’रीजन टू सेलिब्रेट’ थीम के साथ होगी 2 फरवरी को एयु बैंक जयपुर मैराथन

एक माह में होंगे 100 से ज्यादा आयोजन
'रीजन टू सेलिब्रेट' थीम के साथ होगी 2 फरवरी को एयु बैंक जयपुर मैराथन
गार्डन में ट्रेनिग से लेकर बूट कैंप, 100 शहरों में युवा रन, स्कूल,कोलेज में जुम्बा, कोरपोरेट में फिट टॉक
वर्ल्ड ट्रेड पार्क में फन एक्टिविटी
हेल्थ और लाइफ स्टाइल फेस्ट डीग्गी पेलेस में आयोजित
एयु बैंक जयपुर मैराथन के प्री-इवेंटस का कैलेंडर लॉन्च  
जयपुर, 28 दिसंबर। संस्कृति युवा संस्था और वर्ल्ड ट्रेड पार्क की ओर से 2 फरवरी 2020 को 11वीं बार गुलाबी शहर के जयपुराइट्स देश और विदेश के अनेक धावकों के साथ कदम से कदम मिलाते हुए इस मैराथन में दौड़ते नजर आएंगे। एयु बैंक जयपुर मैराथन के 11वें सीजन की थीम 'रीजन टू सेलिब्रेट' रखी गयी है, देश की सबसे बड़ी मैराथन ने दस साल पूरे कर लिए है। मैराथन से पहले शहर में अनेक आयोजन होंगे जिसमे मेराथन ट्रेनिंग के लिए एक माह का ट्रेनिंग कैंप, एक्सपर्ट्स के साथ बूट कैंप, विवेकानंद जयंती पर जयपुर के साथ 100 शहरों में युवा रन, स्कूल, कोलेज में जुम्बा, कोरपोरेट में फिट टॉक, वर्ल्ड ट्रेड पार्क में फन एक्टिविटी  और हेल्थ और लाइफ स्टाइल फेस्ट डीग्गी पेलेस में आयोजित होगा। राजधानी जयपुर में एयू बैंक जयपुर मैराथन को लेकर गतिविधियां आरंभ हो चुकी है, जिसके अंतर्गत आज एक प्री-इवेंटस का आयोजन होटल होली डे इन में इवेंट कैलेंडर लॉन्च के साथ संस्कृति युवा संस्था के अध्यक्ष एवं जयपुर मेराथन के आयोजक पंडित सुरेश मिश्रा; वर्ल्ड ट्रेड पार्क के चेयरमैन, अनूप बरतरिया; एयू स्माल फाईनेन्स बैंक के कम्पनी सेक्रेटरी, मनमोहन परनामी; आदर्श नगर विधायक, रफीक खान; किशनपोल विधायक, अमीन कागज़ीन; पूर्व महापोर, ज्योति खंडेलवाल; रोटरी क्लब, जयपुर सिटिज़न के अध्यक्ष, अमित अग्रवाल; शकुन ग्रुप के निदेशक, जे डी माहेश्वरी; दैनिक भास्कर के वाइस प्रेसिडेंट मार्केटिंग, आशुतोष मिश्रा; डॉ आशीष मित्तल; रवि गोयनका; योगेश मिश्रा; संस्कृति युवा संस्था के संरक्षक, एच सी गनेशिया; रावत ग्रुप के निदेशक, बी एस रावत; इन्कम टैक्स कमिशनर, आनंद स्वरुप; एल सी भारतीय; सुनील बिक्लीवाला; पवन टांक ने किया।
ट्रेनिंग कैंपस करेंगे जयपुर को तैयार
एयु बैंक जयपुर मैराथन के लिए ट्रेनिंग कैंपस 29 दिसंबर से जयपुर मे 6 अलग-अलग स्थानों पर आयोजित किया जाएगी। ये कैंप विद्याधर नगर स्टेडियम में; वैशाली नगर में एक्सट्रीम स्पोर्ट्स क्लब में; निर्माण नगर में श्याम नगर पुलिस थाने के पीछे पार्क में; रिद्धि सिद्धि, गोपालपुरा; जवाहर सर्कल और सेंट्रल पार्क, झंडे के पास रोजाना सुबह 1 घंटे (प्रातः 7ः15 से 8ः15 बजे) तक एक महीन आयोजित किया जाएगा। जयपुराइट्स इस ट्रेनिंग और रनिग टिप्स कैम्प में जयपुर रनर्स टीम के साथ री बिल्ट, एक्सट्रीम स्पोर्ट्स, रॉयल राजस्थान रनर्स, जोशीले रनर्स की टीम के साथ प्रैक्टिस कर सकेंगे।
काउच टू फिट कारपोरेटस में
ऑफिस में दिन भर बैठे रहने से अनफिट महससू कर रहे कोर्पोरेट एम्प्लाइज को हेल्दी रहने के टिप्स और काउच को छोड़कर किस प्रकार फिट रहा जा सकता है के मैसेज के साथ 2 से 13 जनवरी तक काउच टू फिट, कारपोरेटस में आयोजित किया जा रहा है, इस कार्यक्रम के अंतर्गत कॉरपोरेट और अन्य संस्थानों में हेल्दी और फिटनेस को लेकर अलग अलग तरह की फन एक्टिविटीज़ की जाएंगी।
मैगा बूट कैप
जयपुराइट्स के लिए एयु बैंक जयपुर मैराथन का मैगा बूट कैप राजस्थान के फास्टेस्ट आयरन मेंन राजेन्द्र भास्कर के साथ 5 जनवरी को सेंट्रल पार्क में होगा जिसमे बूट कैंप के साथ, फ़ूड, डाइट सहित अनेक टिप्स दिए जायँगे।
12 जनवरी को युवा रन 100 शहरों में
विवेकानंद जयंती पर युवा रन का आयोजन 100 शहरों में किया जाएगा यह रन ना सिर्फ राजस्थान में बल्कि देश के कई शहरों में आयोजित होगी जिसमें मुख्य हैं, जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई, हैदराबाद, बेंगलुरु। इन सभी शहरों से वर्चुअल रन के जरिये रनर्स शामिल होंगे।
स्कूल, कोलेज में जुंबा और फन एक्टिविटीज के साथ होगी स्वच्छता की शपथ
15 से 30 जनवरी जयपुर के सभी स्कूलों और कॉलेजों में युवाओं को हेल्थी और स्वच्छ जयपुर अभियान के तहत ओथ भी दिलाई जाएगी। इस कार्यक्रम के अंतर्गत जुंबा और फन एक्टिविटीज भी शामिल होंगी जो पूरे शहर में हेल्दी रहने, फिट रहने और स्वच्छ जयपुर के मैसेज के साथ होंगी।
17 जनवरी को टी शर्ट और मेडल लॉन्च
एक फैशन शो के साथ 17 जनवरी को विधिवत तौर पर टी शर्ट और मेडल लॉन्च बाईस गोदाम सर्किल स्थित एक होटल होली डे इन में किया जाएगा।
योगा और मेडिटेशन कैंप
जयपुराइट्स के लिए एयु बैंक जयपुर मैराथन द्वारा एक योगा और मेडिटेशन कैंप 19 जनवरी  को आयोजित होगा।
वर्ल्ड ट्रेड पार्क में होगा 7 दिनों का मैराथन सेलिब्रेशन
जनवरी के आखिरी 7 दिनों में सेलिब्रेशन एक्टिविटीज तेज हो जाएंगी जिनमें 24 जनवरी से 30 जनवरी तक वर्ल्ड ट्रेड पार्क में अलग अलग तरीके की गतिविधियां होंगी जिनमें फिट चेलेज, टोर्च सरेमनि, मेसेज वॉल के साथ अनेक कॉन्टेस्ट भी होंगे।
डिग्गी पैलेस में दो दिन का हेल्थ और लाइफ स्टाइल एक्सपो
डिग्गी पैलेस में दो दिन का हेल्थ और लाइफ स्टाइल एक्सपो का 31 जनवरी और 1 फरवरी को आयोजित होगा जिसमे देश और दुनिया भर के धावको के साथ जयपुराइट्स शिरकत करेंगे और अपना रनिग बिब और किट कलेक्ट करेंगे। पहले दिन इनॉग्रेशन सेरिमनी के बाद टॉक शोज, राजस्थान गौरव अवॉर्ड्स और कल्चरल इवनिंग का आयोजन किया जाएगा और दूसरे दिन को सुबह 6ः30 बजे कल्चरल हेरीटेज वॉक होगी,  साथ ही जयपुर रनर्स अवार्ड, पेसर्स  मीट, अंबेसडर मीट और मिस राजस्थान 2020 का विधिवत घोषणा की जाएगी।



आर्ट फिएस्टा में अभिव्यक्ति का अद्भुत चित्रण

जेकेके के शिल्पग्राम में चल रहा है पारंपरिक कलाओं का उत्सव


जयपुर । संगीत की मधुर धुनों के संग चित्रकार की कूची से प्रकृति का अद्भुत दृश्य कैनवास पर मूर्त रूप ले रहा था और सामने उपस्थित कला प्रेमी रोमांच की नजरों से निहारता रहा। लखनऊ के वरिष्ठ चित्रकार मोहम्मद इशाक खान ने लाइव डेमोंस्ट्रेशन में बर्फ से ढके माउंटेंस की परिकल्पना को साकार किया। अवसरा रहा दिल्ली की ट्रेडिशनल आर्ट प्रमोशनल सोसाइटी और द आर्ट बॉस की ओर से जवाहर कला केंद्र के शिल्पग्राम में आयोजित पांच दिवसीय आर्ट फिएस्टा के तीसरे संस्करण का। फिएस्टा का तीसरे दिन विश्व विख्यात कलाकारों की क्रिएटिव लाइव पेंटिंग्स से सरोकार रहा। मुंबई के वरिष्ठ कलाकार पद्मश्री पृथ्वी सोनी ने फिगरेटिव आर्ट की प्रस्तुति दी। उन्होंने बुद्धम शरणम् गच्छामि थीम पर शांति और प्रेम के लिए प्रातः काल बच्चे को पीठ पर बुद्ध की शरण में जाती मां की ऑयल पेंटिंग बनाई। मुंबई के मनोज दास ने साधु की ध्यान मगन स्प्रिचुअल पेंटिंग बनाई। इसमें बनारस की छतरियों, घाटों, मंदिरों और गंगा को चित्रकारी में समाहित किया। इसके अलावा दिल्ली के महमूद और पश्चिम बंगाल के रंजीत सरकार ने अपनी कला का परिचय दिया।


आर्ट में आजादी जरूरी


फिएस्टा में कलाकारों के व्यक्तित्व और कृतित्व से संबंधित टॉक शो में शनिवार को दिल्ली की एब्स्ट्रेक्ट पेंटर संगीता गुप्ता ने अपने अनुभव साझा किए। वरिष्ठ कलाकार अशोक आत्रेय और  अरुण किमतकर से संगीता गुप्ता ने कलाकार के संघर्षमय जीवन पर बातचीत की। उन्होंने  बताया कि आर्टिस्ट को फुल टाइम आर्ट मिले ना मिले मगर फुल टाइम फ्रीडम मिलना चाहिए। आर्ट इंसान को सिलिका और नजरिया देता है।


फिएस्टा में कल शहीद सौरव कटारा का लाइव पोट्रेट रहेगा खास


समारोह में आर्टिस्ट चंद्र प्रकाश गुप्ता हाल ही में जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में शहीद हुए भरतपुर जिले में रूपवास के गांव बरौली ब्राह्मण के जवान सौरव कटारा को अपनी लाइव पोट्रेट द्वारा श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे।



Saturday, December 14, 2019

चार दिवसीय ‘जयपुर हिस्ट्री फेस्टिवल‘ में शामिल हुए 42 स्कूलों के 6400 से अधिक स्टूडेंट्स


  • सिटीपैलेस में चार दिवसीय फेस्टिवल का हुआ समापन

  • महाराजासवाई मान सिंह द्वितीय संग्रहालय द्वारा किया गया आयोजित


चार दिवसीय 'जयपुर हिस्ट्री फेस्टिवल' में शामिल हुए 42 स्कूलों के 6400 से अधिक स्टूडेंट्स


जयपुर,13 दिसंबर। महाराजा सवाई मान सिंह (एमएसएमएस) द्वितीय संग्रहालय की ओर से सिटी पैलेस में आयोजित की गई चार दिवसीय 'जयपुर हिस्ट्री फेस्टिवल' में जयपुर व नई दिल्ली के 42 स्कूलों के 6412 स्टूडेंट्स शामिल हुए। एमएसएमएस द्वितीय संग्रहालय के निदेशक (शिक्षा), श्री संदीप सेठी ने यह जानकारी दी।


 पैलेस स्कूल के स्टूडेंट्स की भजन प्रस्तुति 'साबरमती के संत' के साथ चौथे दिन की गतिविधियों की शुरुआत हुई। इसके बाद कपिल ज्ञानपीठ स्कूल की ओर से भ्रष्टाचार के खिलाफ व 'सेव द एनवारयमेंट' विषयों पर नाटक प्रस्तुत किए गए और सुबोध पब्लिक स्कूल (एयरपोर्ट) द्वारा नदियों पर एक कॉमेडी स्किट पेश किया गया। महाराजा सवाई भवानी सिंह स्कूल एवं शांति एशियाटिक स्कूल के स्टूडेंट्स ने चंगेज खान, अवध की बेगम, एडोल्फ हिटलर जैसे ऐतिहासिक पात्रों का अभिनय किया।


शांति एशियाटिक स्कूल की ओर से इंटरनेशनल फेस्टिवल्स पर आधारित डांस पेश किया गया, जबकि ट्री हाउस स्कूल के विद्यार्थियों ने भारत की नदियों पर गीत की प्रस्तुति दी। इसी प्रकार सीडलिंग पब्लिक स्कूल, टैगोर इंटरनेशनल स्कूल, एमपीएस - प्रताप नगर स्कूल, एसआरएन इंटरनेशनल स्कूल, जयश्री पेरिवाल हाई स्कूल और दिशा फाउंडेशन द्वारा नदियों पर आधारित नृत्यों की खूबसूरत प्रस्तुतियां दी गई। टैगोर इंटरनेशनल स्कूल के स्टूडेंट्स द्वारा वायलिन पर महात्मा गांधी के भजनों की सुमधुर प्रस्तुति दी गई।


फेस्टिवल के चारों दिन स्टूडेंट्स व आगंतुकों ने मांडणा, फेस मास्क, काइट्स, बंधेज व एनामेल प्रिंट्स पर आधारित क्राफ्ट वर्कशॉप का आनंद भी उठाया।


 


पद्मभूषण पं.विश्वमोहन भट्ट को अटल रत्न पुरस्कार

जयपुर,13 दिसम्बर। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी स्मृति में पूर्व मंत्री, दिग्गज नेता मुरली मनोहर जोशी ने देश-दुनिया के मशहूर फनकार पद्मभूषण पं.विश्वमोहन भट्ट को अटल रत्न पुरस्कार प्रदान किया।  यह पुरस्कार उन्हें धरोहर उत्सव की ओर से गत दिवस 12 दिसंबर को दिल्ली के इंडिया हैबिटेट सेंटर में हुए कार्यक्रम के दौरान दिया गया। गौरतलब है कि आला फनकार पं.विश्वमोहन भट्ट का मोहनवीणा वादन शनिवार को यहां जयपुर के जवाहर कला केन्द्र में होगा। यह कार्यक्रम में 25वें अभा ध्रुवपद नाद-निनाद विरासत के रजत जयंती समारोह के तहत होगा। 


 


जेकेके में प्रतिभागी सीख रहे हैं पेपरमेशी बनाने की कला

 गोविंद सिंह नागवंशी दे रहे  प्रशिक्षण



  • 17 दिसंबरतक चलेगी वर्कशॉप


जयपुर,13 दिसंबर। जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार को 'कंटम्प्रेरी क्राफ्ट फॉर पेपरमेशी' वर्कशॉप की शुरूआत हुई, जिसमें 15 प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। जेकेके की ओर से यह वर्कशॉप 'स्किलशेयर फ्रॉम लिविंग मास्टर्स'श्रृंखला के तहत आयोजित की जा रही है। इसमें ग्वालियर के पेपरमेशी कलाकार, गोविंद सिंह नागवंशी प्रशिक्षण दे रहे हैं। विलुप्त होने के कगार पर खड़ी कलाओं को जीवंत बनाए रखने तथा ईको-फ्रेंडली व जीरो वेस्ट क्राफ्ट विकसित करने के उद्देश्य से इस वर्कशॉप का आयोजन किया जा रहा है। यह वर्कशॉप मंगलवार, 17 दिसंबर तक चलेगी।


 वर्कशॉप के प्रथम दिन प्रतिभागियों को पेपरमेशी बनाने की प्रक्रिया सिखाई गई। इसके तहत रद्दी पेपर की स्ट्रिप्स पानी में डुबोने के बाद इनका पेस्ट बनाया गया। इसके बाद पानी में मुल्तानी मिट्टी व गोंद मिलाया गया। फिर प्रतिभागियों ने नारियल के छिलकों को सांचा बनाकर इस पेस्ट से भगवान गणेश की मूर्तियां बनाई।


प्रतिभागियों को शनिवार को शिल्प के अन्य रूपों के साथ-साथ मिट्टी के पात्र, फ्लॉवर पोट, बर्ड्स, टेबल लैंप, फोटो फ्रेम जैसे सजावटी सामान बनाना सिखाया जाएगा। वे क्राफ्ट का निर्माण करने के साथ फाइनल टच भी देंगे एवं विभिन्न कलर कॉम्बिनेशन चुनेंगे।


 


 


 


बैंकर्स व उद्योगपतियों ने आरटीकोंन 2019 के मंच पर खुलकर की चर्चा, साझा किए अनुभव

जयपुर के रेडीसन ब्लू में दो दिवसीय आरटीकोंन 2019 का आयोजन किया गया। जिसमें बैंक, प्रोफेशनल एवं उद्योगपति एक साथ एक मंच पर जीएसटी सहित देश के विभिन्न आर्थिक मुद्दों पर चर्चा करते नजर आए। दो दिवसीय इस कार्यक्रम में आज चार सेशन में 20 से ज्यादा बैंकर्स और उद्योगपतियों ने चर्चा की।  
आरटीकोन के आयोजक अनिल खण्डेलवाल ने बताया कि कार्यक्रम में स्टार्टअप, ई—कामर्स से व्यापार जगत में हो प्रभावों पर भी चर्चा हुई। साथ ही RBI व nclt जैसे विषयों पर विचार विमर्श किया गया। कार्यक्रम कॉर्डिनेटर अभिनव खण्डेलवाल ने बताया कि इस मीट में वर्तमान में बैंक्स, लोन, रेरा, जीएसटी, आयकर, कम्पनी अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों पर हुआ मंथन जिसमें शहर के करीब 150 से ज्यादा बैंकर्स व स्पीकर्ज़ ने हिस्सा लिया।
चौथा सेशन रिटर्न आॅफ मनी वर्सेज रिटर्न आॅन मनी में में पंजाब नेशनल बैंक की पूर्व जीएम कल्पना गुप्ता ने बताया कि मार्केट में कैसे इनवेस्टमेंट किया जाए और किए गए इनवेस्टमेंट पर कैसे सही व पारंपरिक रिटर्न मिलती रहे इस पर बात की। उन्होंने बताया कि आरटीकोन में न केवल शहर के बल्कि शहर के बाहर से भी कई प्रोफशनल आ रहे हैं जिसमें सीए, सीएस, कॉरपोरेट लॉअर भी हिस्सा ले रहे हैं। यह पहला ऐसा अवसर है जिसमें श्रोतागण भी डिबेट में भाग ले सकेंगे।


 


स्टेम सेल से लिगामेंट बढ़ाकर ठीक हो जाएगा टखने का गलना

- फुट एंड एंकल कॉन्फ्रेंस के अंतिम दिन आकर्षण का केंद्र रही लाइव सर्जरी


- पैर की विभिन्न चोटों और उनके इलाज के बारे में हुई चर्चा


जयपुर। अत्याधिक उपयोग से टखने की हड्डी में गलाव हो जाता है जिससे होने वाले तेज दर्द को अब अत्याधुनिक तकनीक से ठीक किया जा सकता है। गलाव कम होने पर माइक्रो फ्रैक्चर और ज्यादा होने पर स्टेम सेल तकनीक से इसका उपचार किया जा सकता है। इसके लिए की-होल सर्जरी होती और जल्दी रिकवरी के बाद खिलाड़ी जल्दी मैदान पर लौट सकता है।


एंकल प्लेटफॉर्म की ओर से शहर में चल रही फुट एंड एंकल कॉन्फ्रेंस के आखिरी दिन देश-विदेश के एक्सपट्र्स ने टखने में होने वाली इंजरी और उनके इलाज की नई तकनीकों के बारे में बताया। खास आकर्षण चार लाइव सर्जरी रहीं। नीदरलैंड के विश्व प्रसिद्ध स्पोट्र्स इंजरी स्पेशलिस्ट डॉ. निक वॉन डिक के साथ जयपुर के ऑर्थोस्कॉपिक व स्पोट्र्स इंजरी सर्जन डॉ. विक्रम शर्मा ने यह सर्जरी जेएलएन मार्ग स्थित एक निजी हॉस्पिटल में की गई, जिन्हें आयोजन स्थल पर लाइव दिखाया गया। इन सर्जरियों में कबड्डी प्लेयर, स्टंट मैन और एक सामान्य मरीज की पुरानी टखने की चोटों का इलाज किया गया। एक केस में तो मरीज के टखने में हड्डी की 30 गांठे बन गई थी जिसे ऑर्थोस्कोपिक तकनीक से ठीक किया गया। आयोजन अध्यक्ष डॉ. विक्रम शर्मा और आयोजन सचिव डॉ. कपिलदेव गर्ग ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में देश-विदेश से 150 से अधिक विशेषज्ञों ने भाग लिया और विदेशों में काम ली जा रही नवीनतम तकनीकों का प्रशिक्षण प्राप्त किया।


नई तकनीक से पुरानी चोटों का इलाज आसान --


डॉ. निक वॉन डिक ने एंकल की पुरानी चोटों के उपचार के बारे में बताया कि कई बार एंकल की हड्डी गलने लगती है जिससे मरीज को बहुत दर्द होता है। अगर गलावट कम है तो माइक्रोफ्रैक्चर तकनीक से प्रभावित हिस्से के आस-पास ड्रिलिंग से छोटे-छोटे छेद किये जाते हैं। इससे शरीर की प्रतिरक्षी कोशिकाएं उन जगहों को भर देती है और पूरी चोट रिकवर हो जाती है। वहीं गलावट ज्यादा होने पर लिगामेंट का सैंपल लैब में लाकर उसे स्टेम सेल से बढ़ाया जाता है और उस बढ़े हिस्से से प्रभावित जगह को भरा जाता है। कॉन्फ्रेंस में चीन के डॉ. यिनगुई हुआ ने ऑर्थोस्कोपिक रिपेयर और रीकंस्ट्रक्शन, डॉ. अभिषेक कीनि व डॉ. अजॉय एसएम ने स्पोट्र्स इंजरी से जुड़े अन्य विषयों पर जानकारी दी।


 


“राजएओआईकॉन -2019“ के दौरान डायरेक्ट लाइव सर्जरी का हुआ टैलिकास्ट

40वें राजस्थान स्टेट कॉन्फ्रेंस “राजएओआईकॉन  -2019“
देश, विदेश के 400 से अधिक डॉक्टर्स ले रहे भाग।
“राजएओआईकॉन  -2019“ के दौरान डायरेक्ट लाइव सर्जरी का हुआ टैलिकास्ट
जयपुर, 14 दिसंबर। भारत के ओटोलरींगोलॉजिस्टों का 40वां राजस्थान राज्य सम्मेलन “राजएओआईकॉन -2019“ 13 से 15 दिसंबर रणथंभौर में आयोजित किया जा रहा है। जिसमें 400 से अधिक इंटरनेशनल और नेशनल फैकल्टी व डेलीगेट शामिल हुए हैं। इस कांफ्रेंस में जयपुर से डायरेक्ट लाइव सर्जरी का टैलिकास्ट रणथंभौर किया गया।  सिद्धम हॉस्पिटल के ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉक्टर ऋषभ जैन ने बताया कि इस दौरान कई सफल ऑपरेशन लाइव किए गए। जिसमें कैंसर की सर्जरी, गले की गांठ, नाक के अंदर जो मांस बढ़ जाता है जिससे खून आता है उसको भी दूरबीन से निकाला गया। यह सभी एडवांस प्रोसीजर है जो विश्व के कुछ चुनिंदा जगहो पर ही हो पाते हैं, जो यहां पर किए गए।
डॉक्टर ऋषभ जैन ने बताया कि एक 30 साल के आदमी के द्वारा ज्यादा गुटखा और तंबाकू खाने से जीभ में कैंसर हो गया था इस सर्जरी के दौरान जीभ का काफी हिस्सा निकालना पड़ा और उस जीभ को फिर से दोबारा बनाया गया। जो कि कंपेरेटिव काफी रेयर होता है। यह एक एडवांस प्रोसीजर रहता है जिसमें जीभ को इस प्रकार दोबारा बनाया जाता है। उसके बाद जन्म से गूंगे बहरे 6 साल के बच्चे का कॉक्लियर  इमप्लांट सर्जरी किया गया। जिसके बाद उम्मीद की जा रही है कि बच्चा बोल और सुन पाएगा। वही एक सर्जरी 67 साल की महिला की सर्जरी की गई। इस महिला के दिमाग का पानी नाक के जरिए नीचे बहने की समस्या थी। आमतौर इस तरह की सर्जरी में सिर के ऊपर चीरा लगाकर दिमाग को खोलकर की जाती है। वही कांफ्रेंस के दौरान इस बीमारी के लिए दूरबीन की सहायता से सर्जरी गई। जिसमें किसी प्रकार का चीरा और कट नहीं होता है। जिसमें मरीज 1 से 2 दिन में डिस्चार्ज किया जा सकता है।
यह राजस्थान में बड़ी आम बीमारी है जिसमें कान की हड्डियां गलने लग जाती है और सुनाई कम होता है इसकी भी सर्जरी की गई। आमतौर पर इसका ऑपरेशन भी चीरा लगाकर किया जाता है, इसका भी सफल ऑपरेशन दूरबीन की सहायता से किया गया। इसमें जो हड्डियां गली हुई थी उनका ऑपरेशन भी दूरबीन के द्वारा ही किया गया।


छोटीकाशी जयपुर में राष्ट्रीय विचारक एंव साहित्यकारों का लगा जमघट

फैशन शो 'वस्त्रम' भारतीय परिधान और भारतीय संस्कृति को बढ़ावा देने के लिये आयोजन
दो दिवसीय ज्ञानम महोत्सव में प्रमुख वक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और सुरेंद्र पूनिया
दो दिवसीय ज्ञानम महोत्सव महाकुंभ का भव्य आगाज
जयपुर, 14 दिसंबर। धर्म कला साहित्य का दो दिवसीय ज्ञानम महोत्सव छोटी काशी कहे जाने वाले राजधानी, जयपुर में आज 14 दिसंबर से जवाहर कला केंद्र में शुरू हुआ। इस महाकुंभ में राष्ट्रीय विचारक एंव साहित्यकारों का जमघट लगा। आयोजन में देशभर से धर्म, साहित्य से जुड़े विद्वान और वरिष्ठ चिंतक देश के ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा कर रहे है। ज्ञानम के आयोजक दीपक गोस्वामी ने बताया की ज्ञानम के सत्रों में सर्वधर्म सम्भाव की तहजीब और हिंदुस्तान, कृष्ण भक्ति और सूफीवाद का मिलन, जनसंख्या नियंत्रण बील, नागरिकता संशोधन बिल, हिंदुत्व का उदय भारत के लिए खतरा या उन्नति का मार्ग जैसे राष्ट्र के अहम मुद्दों पर देश भर से आए विचारक अपने विचार वियक्त कर रहे है।
2 दिन चलने वाले इस महाकुंभ में आज 5 सेशन हुए जिसमें देश के जाने-माने संत महात्मा और पत्रकारों ने अपने विचार व्यक्त किए। गोस्वामी सुशील महाराज, बांग्ला साहिब गुरुद्वारा के चीफ प्रवीण दलजीत सिंह चंडोक, इनके अलावा दिल्ली साध्वी प्रज्ञा भारती, साध्वी प्रियंवदा, जाने-माने पत्रकार यशवंत राणा, सहित अनेक ज्योतिषियों ने इस कार्यक्रम में अपने विचार रखे और सभी को एक सूत्र में पिरोने की कोशिश की, जिससे समाज और युवा एक माला की तरह सिरोही जा सके, शाम को सूफियाना संगीत पर कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें अनेक कलाकारों ने भाग लिया कल भी दूसरे दिन सेशन आयोजित किए जाएंगे जिसमें शाम को अध्यात्म को लेकर एक फैशन शो में बताया जाएगा कि तुलसी की माला रुद्राक्ष की माला धारण करने से शरीर में कैसे एनर्जी आती है वह अपने मानसिक संताप से दूर जा सकता है और खुशियों के साथ आ सकता है। आज एक सेशन में 'जनसंख्या नियंत्रण बिल का लाना बहुत अनिवार्य' पर अनिल चौधरी (जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष), अश्वनी उपाध्याय (एडवोकेट, भाजपा प्रवक्ता, पी आई एल के अनकवर्ड किंग) डॉ देवेंद्र कोठारी (जनसंख्या और विकास विश्लेषक) चेतन राजहंस (राष्ट्रीय प्रवक्ता सनातन संस्थान) ने चर्चा करते हुए कहा जैसा कि हम सब जानते हैं कि जनसंख्या वृद्धि हमारे देश की एक सबसे बड़ी समस्या है इसको कम करने के लिए सरकार द्वारा जनसंख्या नियंत्रण बिल का लाना बहुत अनिवार्य है जनसंख्या वृद्धि की वजह मूलतः साक्षरता है सरकार द्वारा जब तक जनसंख्या नियंत्रण बिल नहीं पास किया जाएगा जिसमें यह साफ लिखा हो कि जो भी मूलभूत सुविधाएं हैं वह उनको ही मिलेंगे जिनके दो और उससे कम बच्चे हो। आज अमूमन देखा जाता है कि जो साक्षर है उनका परिवार छोटा और जो साक्षर नहीं है उनका परिवार बड़ा होता है इसीलिए सरकार को ठोस कदम उठाने पड़ेंगे जिससे कि जनसंख्या वृद्धि पर रोक लगाई जा सके हम सभी जानते हैं कि भारत इस समय दूसरे नंबर पर जनसंख्या में है पहला नंबर जापान का है


 


Rajasthani Writer Kishan Lal Verma interacts with literature lovers in Aakhar Series


Jaipur: Renowned Rajasthani writer Mr. Kishan Lal Verma shared his literary journey with literature lovers of city in “Aakhar” series. An initiative by Prabha Khaitan Foundation in association with Grassroot Media Foundation, Aakhar aims to promote Rajasthani Language, Arts & Culture. Supported by Shree Cement, the talk-show was held at Hotel ITC Rajputana and was moderated by Lecturer and Author Mr. Vijay Joshi


Talking about his early days, Mr. Kishan Lal Verma shared that his parents were labors and worked hard to earn daily bread and butter. Though his father wanted to educate him but failed to do so due to lack of resources. In between all this, his parents had to leave their native village and shift to another one to earn daily livelihood, during all these turmoils he had to wash cup-plates in hotel to support family.


He further shared that his father made him took an admission in 4th standard upon forcing by one of the elder's of the village and for his education, So he had to travel 10 kilometers everyday therefore he never thought about learning literature in the beginning. This gradually led to learning stitching and studying at the same time which further resulted in his selection as a nursing student. In his words, “Struggle of early days made him a strong human being.”


Sharing about his literature beginning, he shared that his literature journey began on 13th December 1985 while one evening looking at calendar of Lord Krishna and Arjun. While staring at the photograph, he suddenly got an urge to write something. He discussed the same with his friends and after their encouragement, he started his writing journey.


He shared that his early creations were based on the happy emotions of 'Lagan & Mehendi'. Mentioning the importance of 'Mehendi', He said 'Mehendi' is an essential part of all happy phases of life and festivals. He also stated that even no important function can start without Mehendi and it is equally important in all the segments and sections of the society. During the incident, he also narrated his poems on 'Mehendi', 'Lagan' based on 'Shringar ras' . He also explained 'Hicchki' which is written on 'Separation of a daughter from his parents after married life.'  These creations were received with lot of applauds by the audiences. Narrating his poem 'Lagan', Mr. Verma recited,


 "Jaori choriyaon doli naai nè balao, Bana joshi ji su khijyo thaanki pothi leta aao..


Mahara saasuji, jathyaani-sa, dauraani ji kyaan jao,


Natkhat laadli piya ki pyaari baaiji kyaan jao,


Sara gaon ki kaki ji, bhabhi ji nè dyo balaao,


Aakha teej ko khadyo che mahari laadli ko saavo..!!”


He also narrated Lower classes' plight through his creation 'Nemichand' where he explained how the deprived section works for the betterment of society and still nobody acknowledges there contribution, instead of this they have been subjected to discrimination. After Independence, thanks to our constitution, deprived section getting similar identity in the democracy but still there is a long way to go.  


 


 


Tuesday, December 3, 2019

कल्चरल नेशनल अवार्ड 2019 14 दिसंबर को जे आई टी कॉलेज में होगा

कल्चर नेशनल अवार्ड सीजन 3 का आयोजन 14 दिसंबर 2019 को जयपुर इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अजमेर रोड में किया जाएगा जिसमें चीफ गेस्ट फर्स्ट इंडिया न्यूज़ चैनल के सीएमडी श्री जगदीश चंद्र होंगे आयोजक और गोल्ड इवेंट्स के डायरेक्टर राज शर्मा ने बताया कि इस प्रोग्राम में पूरे भारतवर्ष से 51 अवार्ड दिए जाएंगे साथ ही भारत में बढ़ रहे बलात्कार के विषय पर एक टॉक शो रखा जायेगा जिसमें कई कॉलेज के प्रोफेसर एवं जाने-माने विशेषज्ञ अपने विचार व्यक्त करेंगे इस प्रोग्राम की ब्रांड एंबेसडर विदुषी राज शर्मा को बनाया गया है !


छोटी सी उमर में बड़ा धमाल कर सुर्ख़ियों में आ रहे रोनित राज

-- डिजिटल इन्फ्लुएंसर  व ब्लॉगर के रूप में की शुरुआत।


-- कई कमर्शियल कंपनियां ब्रांडिंग व प्रमोशन के लिए  करती हैं एप्रोच।


-- जल्द ही नजर आएंगे प्रोफेशनल मॉडलिंग व एक्टिंग के मंच पर।


-- एक सक्सेसफुल एक्टर बनना है लाइफ का ड्रीम।


हालत वो ना रखें जो हौसलो को बदल दें, बल्कि हौसला वो रखें जो हालातों को बदल दें यह कहना है मूलत राजस्थान के सबसे छोटे जिले  धौलपुर से ताल्लुक रखने वाले एवं वर्तमान में राजधानी जयपुर में रहने वाले रोनित राज का। जो डिजिटली प्लेटफॉर्म्स पर टैलेंट व हार्डवर्क के दम पर अपनी अलग  ही छाप छोड़ रहे हैं। रोनित इस उमर में एक उभरते हुए इन्फ्लुएंसर व ब्लॉगर हैं । रोनित कई नेशनल व मल्टी नेशनल कम्पनियों से टाई अप कर रिवार्ड्स अवार्ड्स कैशबैक गूडीज़ गिफ्ट हैंपर इत्यादि प्राप्त कर चुके हैं।


रोनित अभी 10th स्टैंडर्ड के छात्र हैं लेकिन इस छोटी सी उमर में ही सोशल मीडिया पे अपनी पकड़ व प्रभाव के कारण एवं अपनी मेहनत व टैलेंट से लोगों का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं व अपना व पूरे परिवार का नाम रोशन करने में जुटे हुए हैं। रोनित ने बताया की घर में शुरू से ही खुला माहौल व अपनी पसंद नापसंद को चूज करने की आजादी मिली। सभी ने फ्रीडम के साथ साथ सही गाइडेंस देकर कई मौकों पर सपोर्ट किया व हिम्मत बढ़ाई है। रोनित ने आगे बताया की फेमस बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह मेरे आइडल हैं। मैं उनको बहुत फॉलो करता हूँ उनका एनर्जेटिक रूप व एक्टिंग मेथड मुझे बहुत लुभाता है।


मनी रिवार्ड्स :- 


अमेज़ॉन, फ्लिपकार्ट, एम एक्स प्लेयर, स्पॉटीफाई, केडबरी, पैरागॉन, गो आईबीबो, लेक्मे एकेडमी, पीटर इंग्लैंड, क्युकी मीडिया, एफ बी बी फैशन हब, सिलाइस पे, चार्म बोर्ड, फैब इंडिया, शॉप फ्लिक्स, वी वाई आर एल ऑरिजिनल्स।


अवार्ड्स :- 


वर्चुअल आई वियर लैब्स, एम प्रिंट, प्रॉपुलस, ग्लो रोड, थंडर पॉड।



गल्फ ऑयल इंडिया ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को सपोर्ट करने के लिए लॉन्च किए ‘ईवी फ्लुइड्स’

मुंबई ,  , 04  अक्टूबर , 2022 -  हिंदुजा समूह की कंपनी गल्फ ऑयल लुब्रिकेंट्स ने  ‘ ईवी फ्लुइड्स ’  की विशेष श्रेणी के लिए स्विच मोबिलिटी और ...