Monday, October 3, 2022

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वी 5 जी डिजिटल ट्विन पर दिल्ली मेट्रो टनल साईट के मजदूरों से की बातचीत; इस डिजिटल ट्विन को भारत में मजदूरों की सुरक्षा के लिए डिज़ाइन किया गया है

03 अक्टूबर,2022: भविष्य की ओर कदम बढ़ाते हुए वोडाफ़ोन आइडिया लिमिटेड ने आज देश की राजधानी में इंडिया मोबाइल कॉन्ग्रेस 2022 के दौरान लाईव 5 जी नेटवर्क को स्विच ऑन कर दिया। वी के 5 जी लाईव नेटवर्क पर पहली कॉल माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने की, जिन्होंने द्वारका में निर्माणाधीन दिल्ली मेट्रो टनल के इमर्सिव टूर के लिए वी 5 जी डिजिटल ट्विन टेक्नोलॉजी का उपयोग किया। यह कॉल दिल्ली के माननीय लेफ्निन्ट गवर्नर श्री विनय सक्सेना ने ली, जिन्होंने साईट पर एक मजदूर के साथ माननीय प्रधानमंत्री जी की बातचीत करवाई।

हाई-स्पीड अल्ट्रा-लो लेटेंसी 5 जी नेटवर्क का उपयोग करते हुए वी ने माननीय प्रधानमंत्री जी को दिखाया कि किस तरह 5 जी टेक्नोलॉजी का उपयोग देश में महत्वपूर्ण कन्स्ट्रक्शन साईट्स जैसे टनलअंडरग्राउण्ड साइटखानों आदि में मजदूरों की सुरक्षा एवं निगरानी बढ़ाने में किया जा सकता है।

वी 5 जी पर निर्मित दिल्ली मेट्रो टनल साईट के 3 डी डिजिटल ट्विन के साथमाननीय प्रधानमंत्री जी रियल टाईम में साईटकामकाज की स्थितियों को देख रहे थे तथा साईट पर काम करने वाले मज़दूरों के कल्याण का जायज़ा ले रहे थे।

आईएमसी में माननीय प्रधानमंत्री जी के साथ आदित्य बिरला ग्रुप के चेयरमैन श्री कुमार मंगलम बिरला भी मौजूद थेजिनके समक्ष यह डेमोन्स्ट्रेशन दिया गया।

इस अवसर पर आदित्य बिरला ग्रुप के चेयरमैन श्री कुमार मंगलम बिरला ने कहा, ‘‘हम माननीय प्रधानमंत्री जी के दृष्टिकोण डिजिटल इंडिया से प्रेरित हैं और भारत को डिजिटल दौर में ग्लोबल सुपरपावर बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। 5 जी के दौर में वी का यह पहला कदम नई पीढ़ी की तकनीक में भारत की उल्लेखनीय उपलब्धि है। वी अपनी बेहतरीन आधुनिक टेक्नोलॉजी एवं सेवाओं के साथ 1.3 बिलियन भारतीयों को विकास के व्यक्तिगत एवं सामुहिक पथ पर तेज़ी से अग्रसर करने के लिए प्रतिबद्ध है।

भारतीय दूरसंचार उद्योग में अग्रणी प्लेयर होने के नातेवी ने टेक्नोलॉजी कंपनियों एवं डोमेन लीडर्स के साथ साझेदारी में 5 जी यूज़ केसेज़ की एक रेंज विकसित की हैजो देश में 5 जी प्रणाली के विकास को गति प्रदान करती है।

वी ने एथोनेट और टाटा कम्युनिकेशन ट्रांसफोर्मेशन सर्विसेज़ (टीसीटीएसके साथ साझेदारी में द्वारका क्षेत्र में निर्माणाधीन दिल्ली मेट्रो साईट का डिजिटल ट्विन बनाया। इस सेटअप के लिए रियल टाईम वीआर एवं आर्टीफिशियल इंटेलीजेन्स पर आधारित ऐप्लीकेशन्स के साथ मडठठ और नत्स्स्ब् को तैनात किया गया। साईट पर 4000 एचडी कैमरे इंस्टॉल किए गएऔर इसे 5 जी नेटवर्क एवं दिल्ली में वी 5 जी कोर लोकेशन पर ऐज कम्प्यूटर प्लेटफॉर्म के साथ कनेक्ट किया गया। ऑपरेटर द्वारा पहने गए होलोलैन्स पर डिजिटल तस्वीरों को पोर्ट किया गयाजिससे प्रधानमंत्री जी ने आईएमसी कार्यक्रम के दौरान स्क्रीन पर इसका लाईव अनुभव प्राप्त किया। साईट से लेकर कोर और प्रगति मैदान में आईएमसी डेमो लोकेशन पर एंड-टू-एंड कनेक्टिविटीवी के 5 जी नेटवर्क पर सुनिश्चित की गई।

वी 5 जी पर डिजिटल ट्विन के फायदे

o   मजदूरों की सुरक्षाः प्रोजेक्ट मैनेजर रिमोट तरीकों से साईट पर निगरानी रख सकते हैं और किसी तरह की आपदा की स्थिति में मजदूरों को तुरंत कमांडनिर्देश दे सकते हैं।

o   कम्युनिकेशन एवं कनेक्टिविटीः हाई स्पीडलो लेटेन्सी 5 जी टेक्नोलॉजी के साथ कनेक्टिविटी और कम्युनिकेशन सहज हो जाता है। यूज़र रियल टाईम में एचडी गुणवत्ता के कम्युनिकेशन का अनुभव पा सकता है।

o   दक्षताः  5 जी कार्य में दक्षता को बढ़ाता हैजिससे अवांछित परिस्थितियों को रोका जा सकता है ओर प्रोजेक्ट मैनेजर एक ही समय में कई साईट्स पर निगरानी रखते हुए अपने काम को अधिक दक्षता के साथ कर सकता है।

बेहतर कल के लिए 5 जी दृष्टिकोण के साथ वी 5 जी की व्यापक रेंज का प्रदर्शन कर रहा हैजो कारोबार और समाज में बड़े पैमाने पर बदलाव लाकर भारत को डिजिटल दौर में अग्रसर करेगा। कई क्षेत्रों जैसे सार्वजनिक सुरक्षाकनेक्टेड हेल्थकेयर एवं स्मार्ट एम्बुलेन्सप्राइवेट नेटवर्कआईओटी कनेक्टेड इलेक्ट्रिक व्हीकल एवं ऑटोनोमस मोबाइल रोबोट, 5 जी क्लाउड एवं इमर्सिव गेमिंग आदि में 5 जी यूज़ केसेज़ आईएमसी 2022 में उपलब्ध हैं।

इससे पहलेप्रदर्शनी के वॉकोथोन के दौरान माननीय प्रधानमंत्री जी ने वी बूथ का दौरा किया और देश की कृषि प्रथाओं में बदलाव लाने के लिए वोडाफ़ोन आइडिया द्वारा विकसित टेक्नोलॉजी यूज़ केसस्मार्ट एग्री का अनुभव प्राप्त किया।

आईएमसी 2022 में आने वाले आगंतुक हॉल नंबर 4 में वी के बूथ 4.15 में आकर वी 5 जी का अनुभव पा सकते हैं।

Saturday, October 1, 2022

बीते कल में आज की परछाई

बीते हुए कल में आज भी झांक कर देखता हूं तो बाबूजी की स्मृतियां और उनके साथ बीते अनेकों और अनगिनत पल आज भी मुझे अपने आस-पास घिरे जीवन से लड़ने की प्रेरणा देते हैं। बाबूजी का देवलोकगमन वर्ष 2017 में 2 अक्टूबर को होने के पश्चात् जीवन क्रम के 2 वर्ष ही बीते कि अचानक कोरोना ने पूरे विश्व को अपने आगोश में ले लिया। चारों तरफ एक शांति छा गई कोई चहल पहल नहीं, बस प्रकृति और जीव जन्तु ही इस संसार के कर्ता हो गए। चारों और मृत्यु ने अपने पैर पसार लिए और इंसानी फितरत को प्रकृति से खिलवाड़ करने की सजा भुगतनी पड़ी और ये सिलसिला ढाई वर्ष तक चलता रहा, हालांकि अभी भी कोरोना पूरी तरह नहीं गया है अपनी सीख लगातार देने की कोशिश कर रहा है परन्तु इंसान है कि सुधरना ही नहीं चाहता। माताजी और बाबूजी की दी हुई नसीहत और उनके दिए संस्कार आज भी प्रासंगिक है। आज वो होते तो इन हालातों को देखकर उनके अश्रु न रूकते और कुछ इस तरह से अपनी परिभाषा में कहते –


ये किसने भरी सिसकियां

ये करता कौन रूदन, 

ये कौन! जो मेरी समाधि से सर टकराता है

ये किसकी आंखों का पानी, जो पत्थर में आग लगाता है

ये किसने दी आवाज मुझे

किसने मोहनदास करमचन्द गांधी को आज पुकारा

किसने इंगित किया, पुराने संबंधों की ओर

कौन! कि जिसने अतीत को ललकारा

आजादी के दीवाने

आओ! बाहों के घेरे में घिर जाओ

सुधियों की सरगमग गाओ

मुझको भी अक्सर याद तुम्हारी आती 

पहले ये बतलाओ

नर होकर भी-

नारी का सा रूप तुम्हारा क्यूं है

पत्थर सी छाती पर आंसू का पर नारा क्यूं है

धरातल से उठकर -

तुम अंबर में बिखर गये

ब्रह्माण्ड सिमट कर आ गया तुम्हारे अंदर

तुम कण कण में उतर गये।

फिर भी एक बात है ऐसी

जो तुम्हें अखरती है

अक्सर ही कुण्ठाओं से घिरे घिरे रहते हो

मज़हब का क्षय रोग हुआ है तुमको

यह क्या कहते हो?

अगर याददास्त अच्छी है तो याद करो

बंटवारे के उन मनहूस क्षणों को

जब मजहब के मापदण्ड से तुमने आजादी नापी थी

घृणा के हाथों बिक गया मनुज

मनुजता मन ही मन कांपी थी

क्या यह सोचकर आज तुम्हारा मन होता बहुत विकल है

कि मानव मानव है

या कि मानव की महज नकल है

यूं अपनी ही नजरों में आप खटकते हो

खुद को खुद ही अपराधी से लगते हो

इसीलिये हो बेचैन

समाधि पर मेरी शीश पटकते हो

-स्व. कवि बंकट बिहारी ‘‘पागल‘‘

ईटी मनी ने पेश किया अपनी तरह का पहला ग्रेट इंडियन इन्वेस्टमेन्ट फेस्टिवलः यूज़र्स को अच्छी फाइनैंशियल आदतों के लिए मिलेंगे रिवॉर्ड

नई दिल्ली, 1 अक्टूबर, 2022: त्योहारों के इस सीज़न भारतीयों को बचत और निवेश के लिए प्रोत्साहित करने के प्रयास में भारत के सबसे बड़े वेल्थ टेक ऐप्स में से एक ईटी मनी ने अपनी तरह के पहले फेस्टिवल ग्रेट इंडियन इन्वेस्टमेन्ट फेस्टिवल के लॉन्च की घोषणा की है। इस अनूठी पहल के माध्यम से ईटी मनी यूज़र्स को अच्छी फाइनैंशियल आदतें अपनाने के लिए रिवॉर्ड देगा।

17 दिनों के इस फेस्टिवल के दौरान ऐप अपने यूज़र्स को ईटी मनी जीनियस पर रिवॉर्ड्स और फेस्टिव डिस्काउन्ट देगाजिसमें अश्योर्ड शॉपिंग वाउचरलाईफस्टाइल सब्सक्रिप्शन्सडेली लकी ड्रॉ और बम्पर पुरस्कार शामिल होंगे। ऐसे ही कुछ मेगा पुरस्कारों में नया आईफोन 14 प्लसआईपैड एयर और रॉयल एनफील्ड इंटरसेप्टर बाईक शामिल हैं। निवेशक अपने परिवार और दोस्तों को रेफरल के ज़रिए अच्छी फाइनैंशियल आदतें अपनाने में मदद करने के लिए रु 2 लाख तक का नकद पुरस्कार भी जीत सकते हैं।

ईटी मनी का मानना है कि पिछले कई दशकों से यूज़र त्योहारों के सीज़न में खर्च करते आएं हैं और इस तरह के खर्च पर रिवॉर्ड की उम्मीद भी रखते हैं। भारत निवेश की नई संस्कृति को अपना  रहा हैऐसे में उन्हें निवेश और बचत के लिए भी प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

ग्रेट इंडियन इन्वेस्टमेन्ट फेस्टिवल के लॉन्च पर बात करते हुए मुकेश कालरासंस्थापक एवं सीईओईटी मनी ने कहा, ‘‘त्योहारों का समय साल का वह समय होता है जब हममें से ज़्यादा लोग लुभावने डील्स और ऑफर्स से आकर्षित होते हैं। हम ऐसे आइटमों पर भी ऑफर्स की उम्मीद रखते हैं जिनकी हमें ज़रूरत नहीं होती। ऐसे में हमारा मासिक बजट बिगड़ जाता हैइसका बुरा असर हमारी भावी फाइनैंशियल योजनाओं और बचत के लक्ष्यों पर भी पड़ता है। भारतीय लोगों को इंटेलीजेन्ट तरीके से निवेश के लिए प्रोत्साहित करने के मिशन के साथ हम यह इन्वेस्टमेन्ट फेस्टिवल लेकर आए हैं जो उन्हें त्योहारों की शुरूआत के साथ निवेश की स्थायी आदतें अपनाने के लिए प्रेरित करेगा। हमें खुशी है कि इस अनूठी पहल के माध्यम से हम लोगोंउनके परिवारों और दोस्तों को सम्पत्ति सृजन की दीर्घकालिक आदतें अपनाने के लिए प्रेरित करने जा रहे हैं।

ईटी मनी का ग्रेट इंडियन इन्वेस्टमेन्ट फेस्टिवल लोगों को खुद तो अच्छी आदतें अपनाने के लिए प्रेरित करता ही हैसाथ ही अगर वे रेफरल के ज़रिए अपने परिवारजनों और दोस्तों को निवेश शुरू करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं तो भी उन्हें रिवॉर्ड देता है। इस तरह ज़्यादा से ज़्यादा भारतीय लोग सम्पत्ति सृजन की यात्रा में शामिल होंगे और निवेश की आदतें अपनाकर रोज़ाना रिवॉर्डविशेष डिस्काउन्टडिस्काउन्टेड ईटी मनी जीनियस मेंबरशिप मंथलकी ड्रा पुरस्कार और बम्पर पुरस्कार जीतने का मौका पा सकेंगे।

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वी 5 जी डिजिटल ट्विन पर दिल्ली मेट्रो टनल साईट के मजदूरों से की बातचीत; इस डिजिटल ट्विन को भारत में मजदूरों की सुरक्षा के लिए डिज़ाइन किया गया है

03   अक्टूबर ,2022:   भविष्य   की   ओर   कदम   बढ़ाते   हुए   वोडाफ़ोन   आइडिया   लिमिटेड   ने   आज   देश   की   राजधानी   में   इंडिया   मोबा...